एन ए आई, ब्यूरो।

ऊना, जिला के सीमांत गांव सिंगा में पंजाब पुलिस ने आज तड़के लाव लश्कर के साथ दबिश देते हुए न सिर्फ एक युवक को धर दबोचा, बल्कि गांव के ही एक कुएं से युवक की निशानदेही के आधार पर टिफिन बम जैसी संदिग्ध चीज को बरामद किया गया है।

गौरतलब है कि इसी गांव का एक युवक पंजाब के लुधियाना में पहले गिरफ्तार किया जा चुका है। जबकि आज गिरफ्तार किया गया युवक पहले से गिरफ्तार चल रहे युवक का ही चचेरा भाई बताया गया है। गांव में करीब 80 वर्ष पुराने बंद पड़े कुंए से दोनों युवकों की निशानदेही के आधार पर पुलिस ने संदिग्ध पॉलीथिन का लिफाफा बरामद किया हैं।

बताया जा रहा है कि पंजाब के नवांशहर और इसके साथ ही रोपड़ जिला के नूरपुर बेदी थाना क्षेत्र के तहत पड़ते कलमा मोड में हुए दो विस्फोट मामलों से इस घटना के तार जुड़े हुए हैं। लुधियाना से गिरफ्तार किए गए युवक की पहचान 27 वर्षीय कुलदीप कुमार के रूप में की गए हैं।

जबकि उसका चचेरा भाई जो शनिवार को गिरफ्तार किया गया उसकी पहचान सिंगा निवासी 27 वर्षीय अमनदीप के रूप में की गई।

 

जिला की पंजाब सीमा पर बसे गांव सिंगा में शनिवार तड़के पंजाब पुलिस ने लाव लश्कर के साथ दबिश देते हुए ना सिर्फ एक युवक को गिरफ्तार किया बल्कि उस युवक की निशानदेही के आधार पर करीब 80 साल पुराने और बंद पड़े कुएं में से संदिग्ध सामन (विस्फोटक पदार्थ) बरामद किया है।

हालांकि स्थानीय पुलिस से मामले में विस्फोटक पदार्थ मिलने की घटना से इंकार कर रही है और कहा जा रहा है कि लैब में जांच के बाद ही यह तय हो पाएगा कि बरामद किया गया पदार्थ आखिर है क्या। दरअसल पंजाब पुलिस ने शुक्रवार और शनिवार की मध्यरात्रि ही हिमाचल प्रदेश के सीमांत गांव सिंगा में चहल-पहल बढ़ा दी थी। जबकि पौ फटते फटते पंजाब पुलिस की बड़ी टीम गांव में दाखिल हो गई।

पंजाब से आई इस टीम के साथ इसी गांव का एक युवक कुलदीप कुमार भी मौजूद था, जिसे पुलिस टीम द्वारा लुधियाना में गिरफ्तार किया जा चुका है। इसी युवक की निशानदेही के आधार पर पुलिस ने उसके चचेरे भाई के घर दबिश देते हुए उसे भी काबू किया। अंतत दोनों युवकों की निशानदेही के आधार पर गांव के बाहर जंगल में स्थित प्राइमरी स्कूल के बिल्कुल बगल में 80 साल पुराने कुएं के पास टीम पहुंची। लोहे का जाल लगाकर बंद किए गए इस कुएं के पास पुलिस की चहल-पहल बढ़ने से गांव में भी अफरातफरी का माहौल रहा। वेल्डिंग का काम करने वाले कारीगर को बुलाकर कुंए का जाल काटा गया। पुलिस टीम के साथ आए विशेषज्ञ को रस्से की मदद से कुएं में उतारकर पॉलीथिन के लिफाफे में बंद संदिग्ध पदार्थ को बाहर निकाला गया।

जिसके बाद उसी प्राइमरी स्कूल में घंटों तक दोनों युवकों के साथ पुलिस टीम ने पूछताछ भी की। इतना ही नहीं पुलिस ने सिंगा से शनिवार सुबह गिरफ्तार किए गए अमनदीप नामक युवक के घर में भी तलाशी ली। जिला पुलिस कप्तान अर्जित सेन ठाकुर और पुलिस बटालियन के कमांडेंट विमुक्त रंजन भी पंजाब पुलिस की इस कार्रवाई के दौरान घटनास्थल पर पहुंचे। एसपी अर्जितसेन ठाकुर का कहना है कि पंजाब पुलिस ने कुएं से कोई संदिग्ध पदार्थ बरामद किया है जिसकी लैब में जांच होने पर ही पता चल पाएगा कि आखिर ये है क्या।

उन्होंने बताया कि पुलिस टीम लुधियाना से गिरफ्तार किए गए इसी गांव के एक युवक को साथ लेकर आई थी जिसके पूछताछ के आधार पर ही उसी के चचेरे भाई को यहां से गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने कहा कि पुलिस ने पहले से दर्ज की गई एक्सप्लोसिव एक्ट की एफआईआर के तहत इस कार्रवाई को अंजाम दिया है।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllEscort