एन ए आई ब्यूरो।

शिमला, रूस और यूक्रेन के बीच चल रहे तनाव के बीच अब हिमाचल के सीएम जयराम ठाकुर ने कहा कि हिमाचल सरकार इन सभी की वतन वापसी के लिए प्रयासरत है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि यूक्रेन में फंसे बच्चों से आग्रह है कि वे किसी भी तरह की चिंता न करें और संबंधित एडवाइजरी का पालन करें। उन्होंने बच्चों के अभिभावकों से कहा कि आपके बच्चे हिमालय के बच्चे हैं, इनकी सुरक्षा हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता है, इसलिए चिंता न करें, जल्द ही उचित समाधान निकाला जाएगा और सभी की वतन वापसी करवाई जाएगी।

सीएम ठाकुर ने कहा कि इस संबंध में लगातार केंद्र सरकार और खासरकर विदेश मंत्रालय से वे संपर्क में है। केंद्र सरकार इस दिशा में प्रभावी रूपरेखा तैयार कर रही है। उम्मीद है कि जल्द ही बच्चों को सुरक्षित भारत लेकर आया जाएगा। वहीं इससे पहले जानकारी मिली थी कि कुल्लू जिला की 20 वर्षीय चैरी मांडया यूक्रेन में फंस गई है। चैरी मांडया के पिता नीरज शैणी और माता अनुबाला ने डीसी कुल्लू के माध्यम से प्रदेश सरकार से चैरी को भारत वापिस लाने की मांग की है। चैरी मांडया यूक्रेन के पॉलटावा सिटी की स्टेट मेडिकल यूनिवर्सिटी में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रही है।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *