एन ए आई, ब्यूरो।

ऊना, नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने कहा है कि हिमाचल प्रदेश में कानून व्यवस्था का पूरी तरह से जनाजा निकल चुका है। आज जिला मुख्यालय पर पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए मुकेश अग्निहोत्री ने प्रदेश सरकार पर बेटियों की सुरक्षा में नाकाम रहने के जमकर आरोप जड़े।

उन्होंने कहा कि पूर्व कांग्रेस सरकार के समय कोटखाई में हुए गुड़िया प्रकरण पर सवार होकर भाजपा ने हिमाचल प्रदेश में सत्ता में पाई थी। लेकिन भाजपा के सत्ता काल में न जाने कितनी गुड़िया दुराचारियों की भेंट चढ़ चुकी हैं। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश के छोटे से जिला ऊना में पिछले एक साल के दौरान दो बेटियों के साथ इस तरह की जघन्य वारदातों को अंजाम दिया जा चुका है।

नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने प्रदेश सरकार पर कानून व्यवस्था को बनाए रखने में पूरी तरह असफल रहने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश की भाजपा सरकार के राज में बेटियां पूरी तरह असुरक्षित हैं। मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि हिमाचल प्रदेश में अपराध का बोलबाला है और यहां पर अपराध पर लगाम कसने में पुलिस पूरी तरह से नाकाम साबित हो रही है। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि जिला के भीतर 1 साल में दो बेटियों को मौत के घाट उतारा जा चुका है।

हिमाचल प्रदेश सरकार गुड़िया हेल्पलाइन नंबर जारी करने के दावे तो करती है लेकिन यह हेल्पलाइन नंबर किसी भी गुड़िया के काम नहीं आ रहा। मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि शिमला जिला के कोटखाई में हुए गुड़िया कार्ड को आधार बनाकर हिमाचल प्रदेश में भाजपा ने पिछले विधानसभा चुनाव के दौरान सत्ता पाई थी। वही बेटियों की सुरक्षा का हिमाचल प्रदेश की जनता के साथ भी वायदा किया था।

लेकिन हर वायदे की तरह प्रदेश में सरकार इस वायदे को भी पूरा करने में नाकाम रही है। उन्होंने मांग की है कि उपमंडल मुख्यालय अंब में 15 वर्षीय किशोरी के साथ हुई जघन्य वारदात के आरोपी को कड़ी से कड़ी सजा दिलाई जाए। वहीं उन्होंने लगे हाथ मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर को भी नसीहत देते हुए कहा कि प्रदेश की बिगड़ती हुई कानून व्यवस्था पर जरा गौर फरमाए।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *