एन ए आई, ब्यूरो।

शिमला, मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज हिमाचल प्रदेश के अस्तित्व में आने के 75 वर्ष पूर्ण होने के उपलक्ष्य में प्रदेश के विभिन्न भागों में 75 कार्यक्रम आयोजित करने के लिए गठित उच्च स्तरीय कमेटी की बैठक की अध्यक्षता की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इन कार्यक्रमों की अध्यक्षता, उनके द्वारा व अन्य केन्द्रीय मंत्रियों द्वारा की जाएगी। उन्होंने कहा कि इन कार्यक्रमों के माध्यम से यह संदेश जाएगा कि गत 75 वर्षों के दौरान प्रदेश के विकास और प्रगति में राज्य के प्रत्येक नागरिक का योगदान रहा है। उन्होंने कहा कि यह आयोजन केवल औपचारिकता मात्र नहीं होना चाहिए, बल्कि इसके माध्यम से राज्य के प्रत्येक व्यक्ति में सम्मान का भाव पैदा होना चाहिए। उन्होंने कहा कि विभिन्न क्षेत्रों में प्रदेश के लिए उपलब्धि हासिल करने वालों को सम्मानित करने के लिए भी एक विशेष कार्यक्रम का आयोजन भी किया जाएगा।

उन्होंने कहा कि इस कार्यक्रम के आयोजन का मुख्य ध्येय प्रदेश सरकार की उपलब्धियों, नीतियों और कार्यक्रमों को प्रचारित करना होगा। उन्होंने कहा कि इसके लिए राज्य के विभिन्न विभाग अपनी विकासात्मक यात्रा को प्रदर्शित करती प्रचार सामग्री और पुस्तिकाएं इत्यादि तैयार करें ताकि इन कार्यक्रमों के दौरान प्रदेश के विभिन्न भागों में इन्हें प्रसारित किया जा सके।

जय राम ठाकुर ने कहा कि स्थानीय और राष्ट्र स्तरीय कलाकारों और सांस्कृतिक दलों को इसमें शामिल करने का प्रयास किया जाना चाहिए ताकि लोगों को मनोरंजन के साथ प्रदेश की गौरवशाली यात्रा से अवगत करवाया जा सके।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य स्तर पर प्रदेश की उपलब्धियों को प्रदर्शित करती हुई एक बुकलेट तैयार की जाए तथा दूसरी बुकलेट में जिला स्तर के आंकड़ों को प्रदर्शित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि समारोह के सभी आयोजन स्थलों पर स्वास्थ्य, बागवानी, कृषि, ऊर्जा, शिक्षा, पर्यटन, जल शक्ति, लोक निर्माण, सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता तथा उद्योग जैसे प्रमुख विभागों द्वारा गत 75 वर्षों की उपलब्धियों को प्रदर्शित करने वाली प्रदर्शिनियों का आयोजन किया जाना चाहिए।

उन्होंने कहा कि उचित मात्रा में प्रचार सामग्री तैयार कर प्रदेश के लोगों को उपलब्ध करवाई जाए।
प्रधान सचिव सामान्य प्रशासन भरत खेड़ा ने मुख्यमंत्री एवं अन्य गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत करते हुए इस दौरान आयोजित किए जानेे वाले कार्यक्रमों की जानकारी प्रदान की। उन्होंने कहा कि राज्य के विभिन्न हिस्सों में 75 कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।

हिमाचल प्रदेश विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष राजीव बिंदल, हिमाचल प्रदेश राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण के उपाध्यक्ष रणधीर शर्मा, मुख्यमंत्री के राजनीतिक सलाहकार त्रिलोक जम्वाल, मुख्य सचिव आर.डी. धीमान, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सुभासीष पन्डा, निदेशक पर्यटन अमित कश्यप, निदेशक परिवहन अनुपम कश्यप, निदेशक ग्रामीण विकास विभाग ऋग्वेद ठाकुर, निदेशक सूचना एवं जनसंपर्क विभाग हरबंस सिंह ब्रसकोन भी बैठक में उपस्थित थे।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *