एन ए आई, ब्यूरो।

शिमला, हिमाचल की राजधानी शिमला को जल्द नए रोपवे प्रोजेक्ट की सौगात मिलने जा रही है, अर्बन ट्रांसपोर्ट रोपवे प्रोजेक्ट के तहत शिमला के तारा देवी से ढिंगू देवी के लिए प्रोजेक्ट को मंजूरी मिली है। यह प्रोजेक्ट 1.546 करोड़ की लागत से तैयार होगा. केंद्रीय वित्त मंत्रालय की ओर से 14.69 किलोमीटर लंबे और 15 स्टॉपेज वाले इस प्रोजेक्ट को सैद्धांतिक मंजूरी दे दी गई है, रोपवे प्रोजेक्ट पूरा होने से शिमला शहर की 3.8 लाख आबादी के साथ यहां हर महीने आने वाले करीब 40 लाख पर्यटकों को इसका फायदा मिलेगा।

हिमाचल प्रदेश के शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज ने जानकारी देते हुए बताया कि वित्त मंत्रालय की ओर से इस प्रोजेक्ट को सैद्धांतिक मंजूरी दे दी गई है। उन्होंने कहा कि आने वाले छह महीने में इस प्रोजेक्ट पर काम शुरू होने की उम्मीद है। सुरेश भारद्वाज ने कहा कि शिमला स्मार्ट सिटी मिशन के तहत शहर में तेजी से काम हो रहे हैं, इससे पहले AMRUT मिशन के तहत भी शहर की सूरत में बदलाव देखने को मिला, उन्होंने कहा कि रोपवे प्रोजेक्ट से शिमला शहर के लोगों के साथ-साथ पर्यटकों को भी इसका सीधा फायदा मिलेगा।

गौरतलब है कि पहाड़ी प्रदेश होने के कारण यहां की भौगोलिक परिस्थितियां विषम हैं। इसे पहले यहां मोनोरेल प्रोजेक्ट को लेकर भी चर्चाएं चलती रही, लेकिन यह प्रोजेक्ट सिरे नहीं चढ़ सके। मोनोरेल और मेट्रो की सुविधा मुहैया न हो पाने की स्थिति में पहाड़ी इलाके के लिए रोपवे सबसे बेहतरीन विकल्प है, शिमला की संगड़ी सड़कों में अक्सर जाम की समस्या बनी रहती है।

इस रोपवे प्रोजेक्ट के आने से जहां स्थानीय लोगों को फायदा मिलेगा। तो वही, यहां आने वाले पर्यटक भी इससे लाभान्वित हो सकेंगे। इस प्रोजेक्ट के तहत सभी 15 स्टॉपेज में स्मार्ट पार्किंग की व्यवस्था का भी प्रावधान किया गया है, मौजूदा वक्त में शिमला के मशहूर जाखू मंदिर जाने के लिए यूएस क्लब से जाखू के लिए रोपवे की व्यवस्था है।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *