एन ए आई, ब्यूरो।

शिमला, हिमाचल पथ परिवहन निगम(एचआरटीसी) में अब 195 आधुनिक बसें शामिल की जा रही हैं जो आधुनिक तकनीक से निर्मित है और अंतरराष्ट्रीय मानकों के आधार पर खरीदी गई हैं। सभी बसें बीएस-6 सीरीज की हैं। वहीं प्रदूषण और सुरक्षा मानकों को लेकर इनमें विशेष प्रावधान है। इन बसों की बॉडी अलग से बनवाने की आवश्यकता नहीं है। इनकी चैसी पर बॉडी कंपनी की ओर से ही अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा मानकों के आधार पर लगाई गई हैं। इनकी चैसी बॉडी के साथ ही अटैच है। इनमें अंतरराष्ट्रीय मानकों के आधार पर सुरक्षा की दृष्टि से सामान छत पर रखने की व्यवस्था नहीं है बल्कि डिक्की की व्यवस्था की गई है।

पहले चैसी वाली बसों की दुर्घटना में ज्यादा नुकसान होता था लेकिन इन नई बसों में ऐसी संभावनाएं कम हैं। हिमाचल पथ परिवहन के प्रबंध निदेशक संदीप कुमार ने कहा पहली खेप में कुल 195 बसों में से 50 बसें 52 सीटर हैं। जबकि अन्य 37 और 47 सीटर हैं। पहली बार प्रदेश के लिए उन्हें सुरक्षा और अन्य तकनीकी कारणों के चलते बसों को रेल से मंगवाया गया है। एक खेप में कुल 32 बसें आ रही हैं। वहीं प्रथम चरण में 64 बसें रास्ते में हैं। बसों को रेल से चंडीगढ़ तक लाया जा रहा है। वहां से इन्हें नालागढ़ में इकट्ठा किया जाएगा, जहां से विभिन्न डिपो को भेजा जाएगा। वहीं हिमाचल पथ परिवहन की ओर से इसके बाद अशोका लीलैंड की इन बसों की 360 बसों की अलग से खेप आएगी।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *