एन ए आई, ब्यूरो।

सिरमौर, हिमाचल प्रदेश के सिरमौर जिले के हाटी समुदाय के लिए राहत की खबर है। केंद्रीय कैबिनेट ने हिमाचल प्रदेश की अनुसूचित जनजाति की सूची में संशोधन को मंजूरी दे दी है। बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने संविधान (अनुसूचित जनजाति आदेश, 1950) में कुछ संशोधन के लिए संसद में ‘संविधान (अनुसूचित जनजाति) आदेश (तीसरा संशोधन) विधेयक 2022’ लाने की मंजूरी दी है। ताकि हिमाचल प्रदेश की अनुसूचित जनजातियों (एसटी) की सूची में संशोधन किया जा सके। केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने कहा कि हाटी समुदाय की 50 वर्षों से चली आ रही मांग को पूरा करने की दृष्टि से एतिहासिक निर्णय हुआ है।

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने सिरमौर जिले के ट्रांस गिरी क्षेत्र के लोगों को अनुसूचित जनजाति का दर्जा देने के लिए सामान्य रूप से केंद्र सरकार और विशेष रूप से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद दिया है। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने आज नई दिल्ली में हुई अपनी बैठक में इसे मंजूरी दे दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार ने ट्रांस गिरी क्षेत्र के लोगों की लंबे समय से चली आ रही मांग को पूरा किया है क्योंकि लगभग समान संस्कृति और भौगोलिक स्थिति वाले पड़ोसी राज्य उत्तराखंड के लोगों को समान दर्जा प्राप्त है। उन्होंने कहा कि इस एतिहासिक निर्णय से सिरमौर जिले की 1.60 लाख से अधिक की आबादी को लाभ होगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि यह निर्णय क्षेत्र के लोगों की समृद्ध संस्कृति और परंपराओं को संरक्षित करने और क्षेत्र में विकास की गति को तेज करने में भी काफी मददगार साबित होगा। उन्होंने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार ने राज्य में सत्ता में आने के बाद से इस मुद्दे को केंद्रीय नेतृत्व के साथ उठाया था। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और अन्य केंद्रीय नेतृत्व ने हाटी समुदाय के इस भावनात्मक मुद्दे में अपनी रुचि दिखाई है। जयराम ठाकुर ने कहा कि राज्य सरकार राज्य की जनता की जायज मांगों के लिए सदैव तत्पर है और इस मामले को केंद्र सरकार के समक्ष मजबूती से रखा, जिसके सार्थक परिणाम सामने आए हैं।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *