एन ए आई ब्यूरो।

शिमला, हिमाचल प्रदेश लोक निर्माण विभाग के एक प्रवक्ता ने आज यहां बताया कि 3 व 4 फरवरी, 2022 को हुई भारी बर्फबारी के कारण यातायात व आवाजाही बाधित हुई, लेकिन विभागीय तैयारियों के कारण सड़कों से समयबद्ध बर्फ हटाकर उन्हें यातायात परिचालन के लिए खोला गया। उन्होंने कहा कि भारी बर्फबारी होने के बाद 5 फरवरी की सुबह तक विभागीय मशीनरी ने रातभर कार्य कर सड़क मार्गों के एक बड़े हिस्से से बर्फ हटाने तथा सड़क मार्गों पर रेत के बिखराव का कार्य भी किया। उन्होंने कहा कि शिमला जिला के विभिन्न स्थानों पर भारी बर्फबारी के कारण फंसे पर्यटक वाहनों को पुलिस विभाग की सहायता से सुरक्षित निकाला गया।

उन्होंने कहा कि 3 फरवरी को बर्फबारी के कारण लगभग 326 सड़कें बन्द हो गई थीं, जिनमें से 37 सड़कों को इसी दिन आवाजाही के लिए बहाल कर दिया गया था, इस कार्य के लिए विभाग के जेसीबी व निजी ठेकेदारों की मशीनों सहित लगभग 237 मशीनें बर्फ हटाने के कार्य के लिए तैनात की गई थीं। उन्होंने कहा कि 4 फरवरी, 2022 को सम्भावित बर्फबारी को देखते हुए सभी फील्ड अधिकारियों को पूरी तैयारी करने के निर्देश जारी किए गए और अवकाश पर गए सभी अधिकारियों और कर्मचारियों को वापिस बुला लिया गया था। 4 फरवरी को पहाड़ी क्षेत्रों में बर्फबारी और मैदानी क्षेत्रों में वर्षा के कारण छः राष्ट्रीय राजमार्गाें सहित राज्य में लगभग 1051 सड़क मार्ग बाधित हुए थे, जिससे लगभग 5 हजार किलोमीटर लम्बे सड़क मार्ग प्रभावित हुए। लोक निर्माण विभाग की प्रारम्भिक तैयारियांे के कारण उसी दिन लगभग 289 सड़कें खोल दी गईं। इस कार्य के लिए 495 मशीनें तैनात की गई थीं। इसमें विभाग की 63 व निजी ठेकेदारों 336 जेसीबी तथा विभाग के 40 डोजर एवं 56 टिपर व ट्रक शामिल थे। उन्होंने कहा कि 5 फरवरी को छः राष्ट्रीय राजमार्गों सहित 393 सड़क मार्गों को यातायात के लिए खोल दिया गया था।

उन्होंने कहा कि विभाग के अधिकारियों व कर्मचारियों ने दिन-रात कड़ी मेहनत कर बर्फबारी के कारण बाधित सड़कों को खोला और यातायात परिचालन सुनिश्चित किया।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *