एन ए आई, ब्यूरो।

शिमला, कांगड़ा के चंबी मैदान में दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल की जनसभा को ऊर्जा मंत्री ने फ्लॉप करार दिया है। ऊर्जा मंत्री से पूछे गए सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि प्रदेश में केजरीवाल मेहमान बनकर आए थे और घूम कर चले गए। उन्होंने कहा कि आयोजित जनसभा में उनके साथ मंच पर भी कोई प्रदेश का नेता बैठने को तैयार नहीं था। बगैर किसी हिमाचली आम आदमी पार्टी नेता के केजरीवाल केवल अपने चुनाव प्रभारी सत्येंद्र जैन के साथ ही मंच पर थे।

सुखराम चौधरी ने हैरानी जताते हुए कहा कि प्रदेश में नेतृत्व वहीं आम आदमी पार्टी का कोई अस्तित्व ही नहीं है। नकल करने वाले बयान पर सुखराम चौधरी ने केजरीवाल को नसीहत देते हुए कहा कि प्रदेश में भाजपा की जय राम सरकार अपने आप में सुशासन का रोल मॉडल है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में किया गया विकास नजर आता है जबकि दिल्ली वालों की सरकार को अपने किए गए कार्यों को लेकर भरोसा जुटाना पड़ता है।

उन्होंने कहा कि अच्छा हो की अरविंद केजरीवाल दिल्ली में जयराम सरकार का रोल मॉडल अपनाएं। पूछे गए सवाल के जवाब में सुखराम चौधरी ने कहा कि प्रदेश में भाजपा और कांग्रेस का मुकाबला होगा बगैर नेता वाली आम आदमी पार्टी को हम गिनती में नहीं मानते। सुखराम चौधरी ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार और प्रदेश की जयराम सरकार द्वारा किए गए कार्यों से प्रदेश की जनता पूरी तरह संतुष्ट है। उन्होंने कांग्रेस पर भी निशाना साधते हुए कहा कि इनमें नेतृत्व को लेकर आपसी जंग चल रही है जबकि जनता की आस्था डबल इंजन की सरकार में है।

उन्होंने कहा कि निश्चित ही हिमाचल में जयराम सरकार के विकास कार्य अपने आप में रोल मॉडल है। उन्होंने दावत जताते हुए कहा कि निश्चित ही 2022 में इतिहास दर्ज होने जा रहा है। हिमाचल प्रदेश में जयराम सरकार फिर से प्रदेश के विकास में जनता की भावनाओं पर खरे उतरते हुए सरकार बनाएगी।

गौरतलब होगी सिरमौर से पांवटा साहिब और नाहन से कुछ दर्जन लोग केजरीवाल की जनसभा के लिए गए थे। हैरानी तो इस बात की है कि जहां आम आदमी पार्टी के कुछ नेता बड़े-बड़े दावे कर रहे थे मगर वह सब दावे फ्लॉप साबित हुए। सिरमौर से ना तो कांग्रेस और ना ही भाजपा का कोई कार्यकर्ता अथवा नेता टूटकर आम आदमी पार्टी की ओर नहीं गया है।

वही सिरमौर सहित अन्य जिलों से गए आम आदमी पार्टी के नेताओं को चंबी मैदान में मंच पर ना तो जगह मिली और ना ही उन्हें कोई तवज्जो दी गई। जानकारी तो यह भी है कि कार्यक्रम में आए लोगों ने खुद माना कि प्रदेश में आम आदमी पार्टी का कोई आधार फिलहाल बिल्कुल नहीं है।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllEscort