एन ए आई, ब्यूरो।

कुल्लू, जिला कुल्लू के गड़सा घाटी के शियाह गांव में देर रात देवता जमदग्नि ऋषि के भंडार गृह में आग लग गई। आग लगने के कारण देवता का भंडारा पूरी तरह से जलकर राख हो गया और अंदर रखा देवता का सामान भी इसकी चपेट में आ गया। अग्निशमन विभाग के कर्मचारियों ने मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाया और साथ लगते घरों को भी जलने से बचाया।

पुलिस की टीम भी मौके पर पहुंच गई है और राजस्व विभाग की टीम के साथ मिलकर नुकसान का जायजा लिया जा रहा है। मिली जानकारी के अनुसार कुल्लू से 30 किलोमीटर दूरी पर स्थित शियाह गांव में सोमवार देर रात को देवता जमदग्नि ऋषि के भंडार गृह में आग लग गई। इस आग की घटना में लाखों रुपए की संपत्ति जलकर नष्ट हो गई। आग लगाने से करीब 80 लाख रुपए के नुकसान का अनुमान लगाया गया है।

देवता जमदग्नि ऋषि के नवनिर्मित नक्काशीदार काष्ठकुणी शैली में बने साढ़े तीन मंजिला स्लेट पोश भंडार गृह, कोठी में आग लगने से अफरा तफरी मच गई। ग्रामीणों ने दमकल केंद्र कुल्लू को सूचित किया। कुल्लू से दमकल विभाग के कर्मचारी मौके पर पहुंचे और गांव में निर्मित वाटर स्टोरेज टैंक पर पोर्टेबल पंप लगाकर तथा छह नंबर डिलीवरी हौज जोड़कर एवं पानी लेकर आग को कड़ी मशक्कत के बाद नियंत्रित कर पूर्ण रूप से बुझाया। दमकल विभाग के लीडिंग फायरमैन सरनपत विष्ट ने बताया इस अग्नीकांड में करीब 80 लाख रुपए के नुकसान का अनुमान लगाया गया है।

इसमें मंदिर के भंडार गर्भ का भीतरी हिस्सा पूर्ण रूप से क्षतिग्रस्त हुआ है। इसके अलावा दमकल विभाग की टीम ने करीब दो कराड़ रुपए की संपत्ति को बचाया है। इसमें साथ लगते गांव के घर जो एक दूसरे से सटे हुए हैं, वहीं डीसी कुल्लू आशुतोष गर्ग ने बताया कि आग लगने के कारणों की जांच की जा रही है और नुकसान का जायजा लेने के लिए भी राजस्व विभाग की टीम मौके पर पहुंच गई है।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllEscort