एन ए आई ब्यूरो।

शिमला,सीडीएस जर्नल विपिन रावत ओर उनके सहयोगी की एयर क्राफ्ट में हुई दुर्घटना के बाद सारा देश शोक में डूबा हुआ है।जगह ,जगह लोग अपने स्तर पर श्रधांजलि दे रहे है ।इसी कड़ी में शनिवार को कोटशेरा कॉलेज के एनसीसी केडेट ने श्रधांजलि स्वरूप कॉलेज से शेरे पंजाब तक एक कैंडल मार्च निकाला इस दौरान सभी मौन अवस्था मे रहे और सीडीएस विपिन रावत को विनम्र श्रधांजलि अर्पित की।
एनसीसी कमांडेंट लेफ्टिनेंट जयप्रकश ने बताया कि सीडीएस जर्नल विपिन रावत उनकी पत्नी सहित 13 सेना के अधिकारियों की आकस्मिक मौत से सारा देश दुखी है उनका कहना था कि सीडीएस बिपिन रावत को श्रद्धांजलि देने के लिए एनसीसी कैडेटों ने कैंडल मार्च निकाला है जो कोटशेरा कॉलेज से शेरे पंजाब तक है
वही एनसीसी कैडेटों ने कहा कि वह उनकी प्रेरणा थे और उन्हें बहुत दुख हुआ कि सीरियस बिपिन रावत की आकस्मिक मौत हो गई उन्होंने कहा कि वह कैंडल मार्च से उन्हें श्रद्धांजलि दे रहे हैं।
गौरतलब है कि 12 मई रविवार 2019 को बिपिन रावत थल सेना के प्रमुख के तौर पर तीन दिवसीय दौरे पर शिमला पहुंचे थे। उनके साथ उनकी पत्नी मधुलिका रावत भी आई थी।तब जनरल रावत ने हिमाचल के साथ लगती चीन सीमा पर सुरक्षा का जायजा लिया था।उस समय शिमला में सेना के स्वामित्व में अनाडेल मैदान पहुंचने पर तत्कालीन आरट्रेक प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल जीएस सांघा व उनकी पत्नी अमनप्रीत कौर सांघा और कार्यवाहक क्षेत्रीय अध्यक्ष सेना परिवार कल्याण संगठन आरट्रेक ने उनका स्वागत किया था।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *