एन ए आई, ब्यूरो।

शिमला, ढली थाना पुलिस ने भट्टाकुफर से चोरी हुई बोलेरो गाड़ी मामले में दो आरोपितों को गिरफ्तार किया है। आरोपितों को पुलिस ने उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार कर शिमला लाया गया है। पुलिस इनसे पूछताछ कर रही है कि किसी अन्य चोरी की घटनाओं में इनका हाथ तो नहीं था। इनके साथ कुछ और लोगों के शामिल होने की भी सूचना है। इसलिए पुलिस फिलहाल इनके नाम नहीं बता रही है। बोलेरो गाड़ी चोरी की यह घटना दो दिन पहले ढली थाना में दर्ज हुई थी। पुलिस को दी शिकायत में जगदीश चंद पुत्र स्व. रूप चंद गांव रतनपुर डाकघर करटोट तहसील रामपुर ने बताया कि उन्होंने 4 जून को अपनी बोलेरो गाड़ी एचपी 06ए-7582 को भट्टाकुफर में सड़क के किनारे खड़ी की थी।

इसके बाद वह अपने गांव चले गए थे। 9 जुलाई को जब वह वापस आए तो वहां पर गाड़ी नहीं थी। पहले अपने स्तर पर उन्होंने इसकी जांच की। गाड़ी का जब कहीं पर भी पता नहीं चला तो पुलिस में इसकी शिकायत दर्ज कर जांच शुरू की। पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज देखी। सड़क पर लगे सीसीटीवी फुटेज कैमरों की मदद से पुलिस शातिरों तक पहुंची।

शहर में गाड़ी चोरी का यह पहला मामला नहीं है। इससे पहले भी शहर से कई गाड़ियां चोरी हो चुकी है। उप नगर टुटू, बालूगंज, टुटीकंडी, समरहिल, संजौली सहित कई क्षेत्रों से गाड़ियां चोरी हो चुकी है। हालांकि पुलिस ने कई गाड़ियों को बरामद भी किया है। बालूगंज थाना पुलिस ने गाड़ी चोर गिरोह भी पकड़ा था। बावजूद इसके अब दोबारा शहर से गाड़ियां चोरी होना शुरू हो गई है। पुलिस लोगों से आग्रह कर रही है कि गाड़ियों को सुरक्षित स्थानों पर ही पार्क करें। शहर में पार्किंग की कमी के चलते अधिकांश लोग सड़क के किनारे ही गाड़ियां खड़ी कर रहे हैं। इन गाड़ियों को अकसर शरारती तत्व निशाना बना रहे हैं। शरारती तत्वों द्वारा गाड़ियों से तोड़फोड़ की जाती है। कहीं चोरों को भी इन वाहनों पर हाथ साफ करने का मौका मिल जाता।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *