एन ए आई ब्यूरो।

ऊना, डीसी कार्यालय ऊना में कार्यरत जेओएआईटी वर्ग के कर्मचारियों ने प्रदेश सरकार द्वारा हाल ही में लागू की गई वेतन आयोग की सिफारिशों पर एतराज जताया है। उन्होंने कहा कि वेतन आयोग की इन सिफारिशों को पंजाब की तर्ज पर लागू ही नहीं किया गया। उन्होंने कहा है कि वेतन आयोग की सिफारिशें अधिकारी वर्ग के लिए बिल्कुल सही है। कर्मचारियों के प्रतिनिधिमंडल की अगुवाई कर रहे राकेश कुमार ने बताया कि वेतन आयोग की सिफारिशों में 15 प्रतिशत वेतन वृद्धि का विकल्प नहीं दिया गया। जिसके चलते सालों से सरकारी क्षेत्र में नौकरी कर रहे कर्मचारियों को भारी नुकसान हो रहा है। उन्होंने कहा कि वेतन आयोग की सिफारिशों से कर्मचारियों को हो रहे नुकसान को रोकने के लिए सरकार के समक्ष भी आवाज उठाई जा रही है। वेतन आयोग की सिफारिशें लागू करने के लिए पंजाब में पैटर्न को फॉलो किया जाता है, लेकिन इस बार हिमाचल और पंजाब में लागू की गई सिफारिशों में जमीन आसमान का फर्क है।

छठे वित्त आयोग के अध्यक्ष सतपाल सिंह सत्ती ने कहा कि डीसी कार्यालय के कर्मचारियों ने अपनी मांगों को लेकर ज्ञापन पत्र सौंपा है। इन सभी मांगों को मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर के ध्यान में लाया जाएगा। कर्मचारी प्रदेश सरकार की रीढ़ होते हैं और उनकी समस्याओं का निराकरण अवश्य किया जाएगा।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *