एन ए आई, ब्यूरो।

शिमला, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के हिमाचल दौरे को लेकर टिप्पणी कर रहे कांग्रेस नेताओं को प्रदेश भाजपा ने जवाब दिया है। भाजपा के महामंत्री त्रिलोक जम्वाल ने कहा कि पूर्व की यूपीए सरकार पूरी तरह से मौन हुआ करती थी, लेकिन पिछले आठ वर्षों से मोदी सरकार हिमाचल के स्वास्थ्य का ख्याल रख रही है। उन्होंने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष प्रतिभा सिंह के उस बयान पर पलटवार किया जिसमें कहा था कि मोदी हिमाचल आएं तो कुछ देकर जाएं। भाजपा नेता ने कहा कि हिमाचल ने आज तक केंद्र की मोदी सरकार से जो भी मांगा उससे बढ़कर दिया।

जम्वाल ने कहा कि कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष प्रतिभा सिंह बार-बार यह कह रही हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हिमाचल आएंगे तो कुछ देकर जाएं। वह प्रधानमंत्री के हिमाचल दौरे को लेकर भी राजनीति कर रही हैं, जो गलत है। उन्हें याद होना चाहिए कि प्रदेश की जयराम सरकार ने केंद्र से जो भी प्रॉजेक्ट मांगे, केंद्र ने वे तुरंत प्रभाव से हिमाचल की जनता को दिए। भाजपा नेता त्रिलोक ने कहा कि यूपीए राज में तो हिमाचल से हमेशा सौतेला व्यवहार किया गया। उन्होंने मोदी सरकार की ओर से स्वास्थ्य के क्षेत्र में हिमाचल को दिए गए प्रोजेक्ट्स के बारे अवगत करवाया।

भाजपा नेता ने कहा कि हिमाचल प्रदेश को एम्स मोदी सरकार ने दिया है। न कि पूर्व की मौन सरकार ने। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष प्रतिभा सिंह बेवजह इसका श्रेय कांग्रेस को दे रही हैं। इसके साथ ही चंबा, नाहन और हमीरपुर में मेडिकल कॉलेज अपग्रेड करने के लिए केंद्र सरकार ने आर्थिक मदद की है। भाजपा के महामंत्री ने कहा कि आज हिमाचल के 48 अस्पतालों में ऑक्सीजन प्लांट स्थापित किए गए हैं। हिमाचल प्रदेश में 1 हज़ार से ज्यादा वेंटिलेटर और 5 हज़ार से ज्यादा ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मौजूद हैं।

450 करोड़ की लागत से पीजीआई का सेटेलाइट सेंटर ऊना में बन रहा है। इसके अलावा करोड़ों की लागत से बनने वाले 6 ट्रॉमा केयर सेंटर भी स्वीकृत किए गए हैं। इस वर्ष स्वास्थ्य के क्षेत्र में बिलासपुर के एम्स के अलावा कुछ बड़े प्रोजेक्ट पूरे होने जा रहे हैं। इनकी लागत करीब 323 करोड़ 57 लाख रुपये है। इसके अलावा करीब 218 करोड़ रुपये की लागत से तैयार हो रहे अटल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल सुपर स्पेशलियटीज़ चम्याणा का कार्य पूरा हो रहा है। यह प्रोजेक्ट भी केंद्र सरकार की ओर से तत्कालीन केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा ने हिमाचल को दिया था। जिसमें 80 फीसदी राशि केंद्र सरकार वहन कर रही है।

भाजपा नेता ने कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष को याद दिलाते हुए कहा कि करीब 31 करोड़ रुपये से आईजीएमसी शिमला में तैयार हो रहे ट्रॉमा सेंटर लेवल वन का कार्य जल्द पूरा होने जा रहा है। इसके साथ-साथ करीब 7 करोड़ रुपये की लागत से टांडा मेडिकल कॉलेज में तैयार हो रहे लेवल टू ट्रॉमा सेंटर का कार्य अगले महीने पूरा हो जाएगा। टांडा मेडिकल कॉलेज में करीब 28 करोड़ की लागत से तैयार हो रहे सेंटर ऑफ एक्सीलेंस का कार्य इस साल अक्तूबर तक पूरा कर लिया जाएगा।

जम्वाल ने कहा इस सबके इतर पीएम मोदी के नेतृत्व में दुनिया की सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा योजना आयुष्मान भारत शुरू की गई। अभी तक हिमाचल में आयुष्मान भारत योजना के तहत 4 लाख 28 हज़ार पंजीकृत हैं। योजना के तहत अभी तक 1 लाख 26 हज़ार मरीजों का निशुल्क इलाज किया जा चुका है। इस पर 154 करोड़ खर्च हुए।

भाजपा नेता ने कहा कि हमीरपुर मेडिकल कॉलेज, नाहन मेडिकल कॉलेज और चंबा मेडिकल कॉलेज के लिए केंद्र की मोदी सरकार ने 510 करोड़ की राशि जारी की है। तीनों मेडिकल कॉलेजों को 170-170 करोड़ की राशि जारी की। प्रतिभा सिंह आज यह दावा कर रही हैं कि पूर्व मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह ने मेडिकल कॉलेजों के लिए काम किए हैं, जो सरासर राजनीतिक लाभ लेने का प्रयास है।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllEscort