एन ए आई ब्यूरो।

ऊना, यूक्रेन और रूस के बीच चल रहे युद्ध के बीच हिमाचल प्रदेश के ऊना जिला के भी छात्र-छात्राएं बीच मझधार फंसते नजर आ रहे हैं। यूक्रेन में फंसे हिमाचल के छात्र छात्राओं को रेस्क्यू करने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा केंद्र सरकार को हरसंभव सूचना उपलब्ध कराई जा रही है। जिला प्रशासन ने यूक्रेन में फंसे जिला के छात्रों की सूची ग्राम पंचायतों, संबंधित थाना प्रभारियों और एसडीएम के माध्यम से एकत्रित करते हुए प्रदेश सरकार को सौंप दी है। इस लिस्ट को केंद्र सरकार को भी भेज दिया गया है, ताकि यूक्रेन में फंसे जिला के स्टूडेंट को वापस लाने की कवायद शुरू की जा सके। जिला से सामने आए आंकड़ों के मुताबिक उपमंडल ऊना के 9, गगरेट के 11, हरोली के 4, बंगाणा के 3 और अंब के 2 छात्र यूक्रेन में शिक्षा हासिल कर रहे हैं। इन छात्र-छात्राओं को रेस्क्यू करने के लिए केंद्र सरकार के द्वारा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रयास किए जा रहे हैं। इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर 1077 पर इन सभी छात्रों और उनके अभिभावकों से बातचीत की गई है। डीसी राघव शर्मा ने कहा है कि जिन भी लोगों के बच्चे या परिजन इस वक्त यूक्रेन में रह रहे हैं वह तुरंत उनकी सूचना इमरजेंसी ऑपरेशन सेंटर में देना सुनिश्चित करें। ताकि यूक्रेन में रह रहे हिमाचल के लोगों को वापस लाने की तरफ कदम बढ़ाए जा सके।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *