एन ए आई, ब्यूरो।

हमीरपुर, मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने ‘प्रगतिशील हिमाचलः स्थापना के 75 वर्ष’ समारोहों की कड़ी में आज हमीरपुर जिले के सुजानपुर में विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए सुजानपुर बस स्टैंड के सुधार और सुजानपुर में लोक निर्माण विभाग के विश्राम गृह के लिए 50-50 लाख रुपये का प्रावधान करने तथा सुजानपुर में सब जज कोर्ट खोलने की घोषणा की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज पूरा देश जहां आजादी के 75 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्य में ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ मना रहा है, वहीं हिमाचल प्रदेश भी अपने अस्तित्व के 75 वर्ष मना रहा है। उन्होंने कहा कि इन समारोहों को मनाने का मुख्य उद्देश्य देश और प्रदेश के प्रति गौरव, सम्मान तथा स्नेह की भावना पैदा करना है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार पूरे हिमाचल में 75 कार्यक्रम आयोजित करके इस महत्वपूर्ण अवसर को शानदार ढंग से मना रही है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि इन समारोहों का उद्देश्य युवा पीढ़ी को राज्य के गौरवमयी विकासात्मक, सांस्कृतिक और राजनीतिक सफर से अवगत करवाना भी है। उन्होंने कहा कि यह अवसर प्रदेश के दूरदर्शी नेताओं, डॉक्टरों, इंजीनियरों, शिक्षकों, कर्मचारियों, श्रमिकों, किसानों और सबसे बढ़कर उन सभी लोगों के प्रति सम्मान और कृतज्ञता व्यक्त करने का है, जिन्होंने राज्य के विकास में महत्वपूर्ण योगदान दिया। इनके प्रयासों से ही हिमाचल प्रदेश आज देश के अन्य राज्यों के लिए रोल मॉडल बनकर उभरा है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के गठन के समय केवल चार जिले थे जबकि आज 12 जिले हैं। उन्होंने कहा कि वर्ष 1948 में राज्य में प्रति व्यक्ति आय मात्र 240 रुपये थी जो अब दो लाख रुपये से अधिक हो गई है। राज्य की साक्षरता दर भी प्रतिशत हो गई है जो 1948 में मात्र 4.8 प्रतिशत थी। उन्होंने कहा कि हमीरपुर राज्य का सबसे साक्षर जिला है।

उन्होंने कहा कि गठन के समय हिमाचल में केवल 228 किलोमीटर सड़कें थीं, जबकि आज लगभग 40,000 किलोमीटर सड़कें राज्य के सबसे दूरस्थ क्षेत्र को भी जोड़ती हैं। उन्होंने कहा कि पहले प्रदेशवासी अपनी जान खतरे में डालकर जैसे-तैसे नदी-नालों को पार करते थे, लेकिन अब राज्य में 2325 से अधिक पुल प्रदेश के विभिन्न क्षेत्रों को जोड़ रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में बिछे सड़कों के जाल का सबसे अधिक श्रेय पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को जाता है, जिन्होंने 60,000 करोड़ रुपये की राशि से प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना की शुरुआत की थी। हिमाचल में लगभग 50 प्रतिशत सड़कों का निर्माण इसी योजना के तहत किया गया है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी सदैव हिमाचल प्रदेश को अपना दूसरा घर मानते थे। उन्होंने कहा अटल बिहारी वाजपेयी को कि जब भी समय मिलता था वे एक-दो दिन के लिए मनाली में कुछ पल बिताते थे।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी हिमाचल प्रदेश को अपना दूसरा घर मानते हैं और प्रदेश के लोगों की विकासात्मक आवश्यकताओं के प्रति संवेदनशील हैं। उन्होंने प्रदेश के लिए बल्क ड्रग फार्मा पार्क को मंजूरी प्रदान करने के लिए केंद्र सरकार, विशेष रूप से प्रधानमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने आशा व्यक्त की कि यह पार्क राज्य के विकास में मील का पत्थर साबित होगा और इससे युवाओं को रोज़गार के पर्याप्त अवसर प्राप्त होंगे। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के चार वर्ष का कार्यकाल के पूर्ण होने पर प्रधानमंत्री ने अपने मंडी दौरे के दौरान 10,000 करोड़ रुपये की परियोजनाओं को समर्पित किया।

जय राम ठाकुर ने कहा कि राज्य सरकार आगामी कुछ महीनों में अपना कार्यकाल पूर्ण करने वाली है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का यह कार्यकाल गरीबों और पिछड़े वर्गों के उत्थान के लिए समर्पित रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में 1300 करोड़ रुपये की राशि व्यय कर लगभग 7.50 लाख लोगों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन प्रदान की जा रही है, जबकि पिछली सरकार ने राज्य की लगभग 4 लाख लोगों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन प्रदान करने के लिए मात्र 400 करोड़ रुपये व्यय किए। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार की मुख्यमंत्री शगुन योजना बीपीएल परिवारों की बेटियों के लिए वरदान साबित हो रही है। इसी प्रकार गंभीर रोगों से ग्रसित मरीज़ों के परिवारों को सहारा योजना से संबल मिला है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले लगभग पांच वर्षों के दौरान वर्तमान राज्य सरकार ने ‘गरीब के करीब सरकार’ के ध्येय के साथ समाज के कमजोर वर्गों के लिए कई कल्याणकारी योजनाएं आरम्भ की हैं।

उन्होंने कहा कि हिमकेयर, सहारा योजना, मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा योजना और शगुन योजना के माध्यम से जरूरतमंद और गरीब लोगों को राहत पहुंचाई जा रही है। उन्होंने कहा कि हिमाचल पथ परिवहन निगम की बसों में महिला यात्रियों को बस किराये में 50 प्रतिशत की छूट दी गई है और घरेलू उपभोक्ताओं को 125 यूनिट मुफ्त बिजली भी उपलब्ध कराई जा रही है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार के ये जन हितैषी निर्णय कांग्रेस नेताओं को रास नहीं आ रहे हैं लेकिन अब यही नेता प्रदेश की जनता को लुभाने के लिए दस गारंटी दे रहे हैं।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी के बड़े-बड़े दावों के बहकावे में प्रदेश की जनता नहीं आएगी और प्रदेश में भाजपा की पुनः सत्ता में आएगी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी का देश से पूरी तरह सफाया हो गया है और अब हिमाचल प्रदेश की बारी है कि राज्य में भाजपा का ‘मिशन रिपीट’ सुनिश्चित किया जाए।
इससे पहले, मुख्यमंत्री ने सुजानपुर विधानसभा क्षेत्र में लगभग 51.08 करोड़ रुपये की 9 विकास परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए।

मुख्यमंत्री ने सुजानपुर में 12.63 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित मिनी सचिवालय भवन, सुजानपुर के निकट पुंग खड्ड पर 11.39 करोड़ रुपये की लागत से बने पुल, उहल में 1.68 करोड़ रुपये के विश्राम गृह, पशु चिकित्सा अस्पताल सुजानपुर 58 लाख रुपये, पुरली-ज्याणा-कुजाबल्ह मार्ग पर बाकर खड्ड पुल 4.25 करोड़ रुपये और ख्याह-भटेरा-ठकलाना मार्ग पर पुंग खड्ड पर 2.23 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित पुल का लोकार्पण किया।

जय राम ठाकुर ने उटपुर में 10.20 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले औद्योगिक प्रशिक्षण केंद्र भवन, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र भवन चबूतरा 3.45 करोड़ रुपये और दाड़ला में 4.67 करोड़ रुपये से बनने वाले हेलीपैड की आधारशिला भी रखी।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल ने कहा कि विगत 75 वर्षों के दौरान हिमाचल प्रदेश में अभूतपूर्व विकास हुआ है। उन्होंने सुजानपुर विधानसभा क्षेत्र में करोड़ों रुपये की लागत के विकास कार्यों के लोकार्पण और शिलान्यास के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया।

इस अवसर पर केंद्रीय सूचना और प्रसारण, युवा कार्य एवं खेल मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सशक्त, दूरदर्शी और गतिशील नेतृत्व में भारत ने पिछले 8 वर्षों के दौरान विश्व पटल पर अपना पुराना गौरव और उच्च स्थान हासिल किया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की दूरदृष्टि के कारण अब गुलामी के प्रतीक राजपथ का नाम बदलकर कर्तव्य पथ कर दिया गया है। उन्होंने कहा कि नरेन्द्र मोदी के मजबूत नेतृत्व में यही नया और जीवंत भारत है।

उन्होंने कहा कि भारत आज विश्व की 5वीं सबसे मजबूत अर्थव्यवस्था के रूप में उभरा है। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार का आठ वर्ष का कार्यकाल उपलब्धियों से भरा रहा है और इस दौरान भ्रष्टाचार का एक भी मामला सामने नहीं आया।

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि धारा 370 को समाप्त करना, अयोध्या में भगवान राम मंदिर का निर्माण और तीन तलाक व्यवस्था को खत्म करना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सक्षम नेतृत्व के कारण संभव हुआ। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के कुशल नेतृत्व के कारण ही देश में विश्व का सबसे बड़ा मुफ्त टीकाकरण अभियान आरम्भ किया गया है।

उन्होंने कहा कि सशस्त्र बलों में हिमाचल प्रदेश के लाखों सेवारत सैनिक और पूर्व सैनिक हैं, जिसके कारण प्रदेश को वीरभूमि के नाम से जाना जाता है। उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी के बाद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ही एकमात्र ऐसे नेता हैं जो करिश्माई व्यक्तित्व के धनी हैं। प्रधानमंत्री गरीबों के उत्थान पर विशेष ध्यान देते हुए समर्पण और प्रतिबद्धता के साथ देशवासियों की सेवा कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा राज्य के लिए बल्क ड्रग पार्क और मेडिकल डिवाइस पार्क भी राज्य के लिए स्वीकृत किए गए हैं, जो प्रदेश के लोगों के लिए वरदान साबित होंगे।

इस अवसर पर हिमाचल पथ परिवहन निगम के उपाध्यक्ष विजय अग्निहोत्री, भाजपा जिलाध्यक्ष बलदेव शर्मा, मंडलाध्यक्ष वीरेंद्र ठाकुर, पंचायत समिति अध्यक्ष अंजना, उपायुक्त हमीरपुर देबश्वेता बनिक, पुलिस अधीक्षक आकृति शर्मा और अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *