एन ए आई, ब्यूरो।

मंडी, मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज मण्डी सदर विधानसभा क्षेत्र में लगभग 17 करोड़ रुपये की 11 विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण एवं शिलान्यास किए और कोटली में ‘प्रगतिशील हिमाचलः स्थापना के 75 वर्ष’ कार्यक्रम के तहत विशाल जनसभा को संबोधित किया।

उन्होंने राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला कोटली में 1.74 करोड़ रुपये से निर्मित प्रशासनिक खंड, मंडी-रिवालसर सड़क पर 8.04 करोड़ रुपये की लागत से बने रत्ती खड्ड पुल, बरनोटा-कड़कोह मार्ग पर 70 लाख रुपये के जबलाई नाला पुल और डामरू में रत्ती खड्ड पर 47 लाख रुपये से निर्मित पुल कर लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने मंडी में लोक निर्माण विभाग के तृतीय इलेक्ट्रिल वृत्त कार्यालय, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र रंधाड़ा, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र कोट, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र मझवाड़ और पंडोह में नवस्तरोन्नत सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का शुभारंभ भी किया। इनके अलावा मुख्यमंत्री ने साई से रघबानू के लिए रत्ती खड्ड पर 56 लाख रुपये की लागत से बनने वाले पैदल पुल और रत्ती पुल के पास लगभग 67 लाख रुपये की लागत से बनने वाले पशु चिकित्सालय तल्याहड़ के भवन की आधारशिला भी रखी।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि हिमाचल प्रदेश अपने अस्तित्व के 75 वर्ष मना रहा है और इस महत्वपूर्ण पड़ाव पर हमें यह विचार अवश्य करना चाहिए कि अभी तक हमने क्या हासिल किया है और आगे क्या हासिल करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के तहत देशवासियों से अपने घरों पर तिरंगा फहराने का आग्रह किया था और उनके आह्वान पर पूरे देश में लोगों ने अपने घरों पर राष्ट्रीय ध्वज फहराया।

मुख्यमंत्री ने कहा कि इन 75 वर्षों के बाद हिमाचल प्रदेश आज जिस मुकाम पर खड़ा है, उसमें हर प्रदेशवासी का सहयोग एवं योगदान रहा है। इस दौरान प्रदेश की अभूतपूर्व उपलब्धियों का श्रेय हर किसान, कर्मचारी, नेता, युवा और हर हिमाचली को जाता है, जिन्होंने प्रदेश के विकास के लिए जोश और प्रतिबद्धता के साथ काम किया। मुख्यमंत्री ने कहा कि गठन के समय हिमाचल में केवल चार जिले थे और इसकी आबादी केवल 11 लाख थी, जबकि आज राज्य में 12 जिले और 70 लाख से अधिक आबादी है। उन्होंने कहा कि वर्ष 1948 में राज्य में केवल 228 किलोमीटर सड़कें थीं, जबकि आज सड़कों की लंबाई बढ़कर लगभग 40,000 किलोमीटर हो गई है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सड़कों के इस जाल का श्रेय पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को भी जाता है, जिन्होंने प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना शुरू की थी। मुख्यमंत्री ने कहा कि हिमाचल प्रदेश जैसे पहाड़ी राज्य में बड़े पैमाने पर सड़कों का निर्माण इसी योजना के कारण संभव हुआ है। राज्य में 20,000 किलोमीटर से अधिक सड़कों का निर्माण पीएमजीएसवाई के तहत किया गया है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार अपना कार्यकाल पूर्ण करने वाली है। इस कार्यकाल के दौरान प्रदेश सरकार ने प्रदेश का समग्र और सर्वांगीण विकास सुनिश्चित किया। उन्होंने कहा कि चुनाव के दृष्टिगत विपक्षी नेता आधारहीन आरोप लगा रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता विपक्षी नेताओं के झूठे वायदों में नहीं आएगी क्योंकि आम जनता जानती है कि उनकी कथनी और करनी में बहुत अन्तर है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेसी नेता वीरभद्र सिंह मॉडल की बात करते हैं परन्तु सच्चाई यह है कि आज पूरा विश्व मोदी मॉडल को मान रहा है जिससे भारत विश्व की पांचवी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गई है। उन्होंने कहा कि कांगेसी नेता रिवाज बदलेंगे (सरकार बदलने का रिवाज) के नारे का विरोध कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार ने प्रतिशोध की राजनीतिक की परम्परा को बदल दिया है।

उन्होंने कहा कि प्रदेश टोपी के रंग के आधार पर भी बंटा हुआ था। उन्होंने कहा कि कांग्रेसी नेताओं का कहना है कि वीरभद्र सिंह जैसे कद्दावर नेता जो मुकाम हासिल नहीं कर पाए वह आम आदमी कैसे प्राप्त कर सकता है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि जिस राजनीतिक दल की अपनी गारंटी नहीं है वह जनता को दस गारंटी दे रहा है। उन्होंने कहा कि पिछली प्रदेश सरकार ने सामाजिक सुरक्षा पेंशन प्रदान करने में केवल 400 करोड़ रुपये व्यय किए थे, जबकि वर्तमान प्रदेश सरकार 1300 करोड़ रुपये व्यय किए हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी 24 सितम्बर को मंडी के पड्डल मैदान में युवा रैली को संबोधित करेंगे। उन्होंने इस रैली में भाग लेने के लिए युवाओं का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि वर्तमान भाजपा सरकार निश्चित रूप से राज्य में फिर से सरकार बनाएगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अनिल शर्मा भाजपा के नेता है और मंडी जिला और विधानसभा क्षेत्र के लिए मिलजुलकर काम करेंगे। उन्होंने कहा कि विधानसभा क्षेत्र की सभी जायज मांगों पर सहानुभूतिपूर्वक विचार किया जाएगा।

मंडी सदर के विधायक अनिल शर्मा ने कहा कि हिमाचल प्रदेश ने सभी क्षेत्रों में अभूतपूर्व विकास किया है और इसका श्रेय राज्य की सरकारों और यहां के मेहनतकश लोगों को जाता है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के विकास में पूर्व केन्द्रीय मंत्री पंडित सुखराम की उल्लेखनीय भूमिका है। पंडित सुखराम देश के दूरसंचार क्रांति के जनक है। उन्होंने कहा कि वह भाजपा के विधायक हैं और जिला और क्षेत्र के विकास के लिए हमेशा कार्यरत रहेंगे। उन्होंने क्षेत्र की विकास संबंधी मांगों से भी अवगत करवाया।

पूर्व विधायक डी.डी. ठाकुर ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि 200 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाला शिवधाम पर्यटकों के लिए आकर्षण का केंद्र साबित होगा। उन्होंने मंडी मंे दूसरा प्रदेश विश्वविद्यालय खोलने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया।

इस अवसर पर पंचायत समिति अध्यक्ष भुवनेश ठाकुर ने अपने विचार रखे। उन्होंने मुख्यमंत्री को आश्वासन दिया कि आगामी विधानसभा चुनावों में मंडी सदर के लोग भाजपा उम्मीदवार की जीत सुनिश्चित करेंगे। उन्होंने मुख्यमंत्री से क्षेत्र के लोगों की सुविधा के लिए कोटली में हिमाचल पथ परिवहन निगम का सब डिपो खोलने का भी आग्रह किया।

भाजपा मंडल मंडी सदर के अध्यक्ष मनीष कपूर ने मुख्यमंत्री और अन्य गणमान्य व्यक्ति का स्वागत किया। उन्होंने विधानसभा क्षेत्र की विभिन्न विकासात्मक परियोजनाओं के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के प्रयासों के कारण ही मंडी मंे नगर निगम सम्भव हो पाया है। उन्होंने क्षेत्र की विभिन्न विकासात्मक मांगों से अवगत करवाया।

इस अवसर पर पूर्व विधायक कन्हैया लाल, जिला परिषद के अध्यक्ष पाल वर्मा, बाल कल्याण परिषद की महासचिव पायल वैद्य, जिला भाजपा अध्यक्ष रणवीर सिंह, आयुक्त अरिन्दम चौधरी, पुलिस अधीक्षक शालिनी अग्निहोत्री और अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *