एन ए आई, ब्यूरो।

परवाणू, मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज सोलन जिला के कसौली विधानसभा क्षेत्र के अन्तर्गत परवाणू में लगभग 218 करोड़ रुपये लागत की 20 विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए।

मुख्यमंत्री ने परवाणू में विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए कसौली विधानसभा क्षेत्र के धर्मपुर में जल शक्ति मंडल खोलने, गड़खल में 20 बिस्तरों की क्षमता वाले उपमंडल आयुर्वेदिक अस्पताल, गम्बरपुल (हरिपुर) में पशु औषधालय, भोजनगर में पशु औषधालय तथा परवाणू में आयुर्वेदिक स्वास्थ्य केंद्र खोलने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि क्षेत्र में लोगों की सुविधा के लिए 50 बिस्तरों वाले अस्पताल धर्मपुर में तीन चिकित्सक, दो पैरा मेडिकल स्टाफ और छह नर्स के पद सृजित किए जाएंगे। साथ ही ईएसआई अस्पताल परवाणू में चिक्सिकों के 06 पद सृजित किए जाएंगे।

जय राम ठाकुर ने कोटिनाम्भ सेरी (नेरीकलां), रान, मेहलन गांवों में उप स्वास्थ्य केन्द्र खोलने की घोषणा की। उन्होंने पट्टाबरावरी तथा तिरडो में पटवार वृत्त तथा जाबल जमरोट में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान खोलने की घोषणा की।

उन्होंने राजकीय उच्च विद्यालय रौड़ी तथा राजकीय उच्च विद्यालय गनोल को राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयांे में स्तरोन्नत करने की घोषणा की। उन्होंने राजकीय माध्यमिक विद्यालय करोल, नेरीकलां, दतियार, गुनाई, चामत भड़ेच को राजकीय उच्च विद्यालयों में स्तरोन्नत करने की घोषणा की। उन्होंने कसौली विधानसभा क्षेत्र के पांच राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयों में वाणिज्य संकाय की कक्षाएं आरम्भ करने तथा दो राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयों में विज्ञान संकाय की कक्षाएं शुरू करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि प्राथा में अटल आदर्श स्कूल भी स्थापित किया जाएगा।
मुख्यमंत्री ने पुलिस चौकी भोजनगर को स्थायी करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि गांव के लोगों की सुविधा के लिए गांव क्यारड़ को पटवार वृत्त धर्मपुर में शामिल किया जाएगा। उन्होंने कहा कि कसौली विधानसभा क्षेत्र के लोगों की सुविधा के लिए हिमाचल पथ परिवहन निगम की दो मुद्रिका बसें संचालित की जाएंगी।

मुख्यमंत्री ने विपक्ष पर तीखा हमला बोलते हुए कहा कि प्रदेश में हुए अभूतपूर्व विकास के बावजूद कांग्रेस के नेता प्रदेश के विकास को स्वीकार नहीं कर पा रहे हैं। उन्होंने कहा कि पूरे देश ने कांग्रेस पार्टी को सिरे से नकार दिया है तथा आज कांग्रेस अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़ रही है। उन्होंने कहा कि हाल ही में संपन्न हुए विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को बुरी तरह से पराजय का सामना करना पड़ा तथा उत्तर प्रदेश में पार्टी केवल दो सीटों पर ही सिमट कर रह गई। उन्होंने कहा कि पंजाब में भी कांग्रेस को हार का सामना करना पड़ा। उन्होंने कहा कि अब इस वर्ष नवंबर माह में होने वाले विधानसभा चुनावों में प्रदेश की जनता कांग्रेस को करारा जवाब देगी। उन्होंने कहा कि आप पार्टी के नेता भी प्रदेश की जनता को गुमराह कर रहे हैं, लेकिन जनता उनके झूठे वादों के बहकावे में नहीं आएगी।

उन्होंने कहा कि प्रदेश के अन्य भागों के साथ-साथ परवाणू क्षेत्र का भी समग्र विकास सुनिश्चित हुआ है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने समाज के कमजोर और पिछड़े वर्गों के सामाजिक-आर्थिक उत्थान के लिए कई कल्याणकारी योजनाएं शुरू की हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री हिमाचल हेल्थकेयर योजना (हिमकेयर) के तहत 5 लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा किया जाता है। यह योजना प्रदेश के लोगों विशेषकर गरीबों और पिछड़े वर्ग के लोगांे के लिए वरदान साबित हुई है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि शगुन योजना के अन्तर्गत बीपीएल परिवारों की बेटियों को शादी के समय 31,000 रुपये की आर्थिक सहायता दी जाती है। उन्हांेने कहा कि मुख्यमंत्री स्वावलम्बन योजना के अन्तर्गत राज्य के युवाओं को स्वरोजगार शुरू करने के लिए एक करोड़ रुपये प्रदान किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि पात्र वर्गों को इस राशि पर 35 प्रतिशत तक उपदान भी प्रदान किया जाता है।

उन्होंने कहा कि राज्य के इतिहास में पहली बार सरकार द्वारा यह निर्णय लिया गया है कि प्रति माह 125 यूनिट तक की बिजली खपत पर बिजली उपभोक्ताओं से जीरो बिल वसूला जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने हिमाचल पथ परिवहन निगम की बसों में महिला यात्रियों को किराए में 50 प्रतिशत छूट देने का भी निर्णय लिया है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की विश्व नेता के रूप में पहचान बनी है तथा यह भारत के लिए सौभाग्य की बात है कि उनके सशक्त नेतृत्व में देश प्रगति कर रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री के गतिशील नेतृत्व में भारत विश्व गुरू बनकर उभर रहा है।

मुख्यमंत्री ने इससे पहले परवाणू के सेक्टर-2 के गेब्रियल सड़क में 75 लाख रुपये की लागत सेस निर्मित पीआईए सदन, बरोटीवाला मंधाला-परवाणू सड़क मार्ग के 11.30 करोड़ रुपये के चौड़ीकरण व उन्नयन कार्य तथा लोहांजी में 4.30 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित प्री-फेब्रिरीकेटिड क्षेत्रीय कुष्ठ अस्पताल का लोकार्पण किया। उन्होंने परवाणू में ईएसआई अस्पताल के लिए 55 लाख रुपये की लागत से निर्मित ऑक्सीजन संयंत्र, तहसील सोलन की ग्राम पंचायत नेरीकलां और इसके साथ लगते गांवों के लिए 1.27 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित उठाऊ जलापूर्ति योजना स्योथ-कमलोग के संवर्द्धन कार्य तथा बड़ोग में 48 लाख रुपये की लागत से निर्मित ‘इन्सपेक्शन हट’ के अतिरिक्त आवास का लोकार्पण किया।

उन्होंने धर्मपुर में सहायक राज्य आबकारी एवं कराधान कार्यालय के लिए 56 लाख रुपये से निर्मित कार्यालय भवन एवं टाइप-2 क्वार्टर तथा तहसील कसौली में पुलिस चौकी गड़खल में 84 लाख रुपये की लागत से निर्मित टाइप-2 क्वार्टर और 21.70 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होटल न्यू रोस कॉमन कसौली का लोकार्पण किया।
मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर शालाघाट-अर्की-कुनिहार-बरोटीवाला सड़क पर गंभर खड्ड पर 5.18 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित डबललेन फुटपाथयुक्त आर्क पुल, भोजनगर से चक्की का मोड़ सड़क पर कौशल्या खड्ड पर 2.80 करोड़ रुपये की लागत वाले पुल, परवाणू-खडीन-बनासर-भोजनगर सड़क पर कमली खड्ड पर 6 करोड़ रुपये लागत से फुटपाथयुक्त डबललेन पुल, पुलिस थाना धर्मपुर के लिए 90 लाख रुपये लागत से निर्मित होने वाले टाईप-3 आवास, 17.50 करोड़ रुपये की लागत से सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र धर्मपुर में 50 बिस्तर क्षमता वाले अतिरिक्त खण्ड, 104.03 करोड़ रुपये की लागत से कसौली विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न गांवों के लिए गिरी नदी से उठाऊ पेयजल योजना, 37.03 करोड़ रुपये की लागत से उठाऊ जलापूर्ति योजना सातियां शिवा, उठाऊ जलापूर्ति योजना गड़खल लड़ाह, उठाऊ जलापूर्ति योजना सुनाड़ी-आंजी, उठाऊ जलापूर्ति योजना गोरथी, उठाऊ जलापूर्ति योजना सेरी थाना, ग्रेविटी जलापूर्ति योजना कसौली, ग्रेविटी जलापूर्ति योजना जंगेशु, ग्रेविटी जलापूर्ति योजना झंगेड़, उठाऊ जलापूर्ति योजना हुड़ंग कोटला, उठाऊ जलापूर्ति योजना भावगुड़ी, 90 लाख रुपये की लागत से उठाऊ जलापूर्ति योजना उप-मोहाल नरयाला और उप-मोहाल चंदरैणी, 91 लाख रुपये की लागत से उठाऊ जलापूर्ति योजना तरोल और कियारवा सिहारदी के रिमॉडलिंग कार्य का शिलान्यास किया।

शिमला संसदीय क्षेत्र के सांसद एवं प्रदेश भाजपा अध्यक्ष सुरेश कश्यप ने इस अवसर पर स्वास्थ्य मंत्री डॉ. राजीव सैजल द्वारा उठाई गई क्षेत्र की विभिन्न विकासात्मक मांगों का समर्थन किया। उन्होंने कहा कि राज्य एवं केन्द्र की डबल इंजन सरकारों ने वैश्विक महामारी कोराना के बावजूद राज्य का निर्बाध विकास सुनिश्चित किया है।

स्वास्थ्य मंत्री डॉ. राजीव सैजल ने अपने गृह क्षेत्र में स्वागत करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के कुशल नेतृत्व में पिछले चार वर्षों में क्षेत्र में अभूतपूर्व विकास हुआ है। उन्होंने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार ने कोविड महामारी की स्थिति का सफलतापूर्वक सामना किया है और हिमाचल प्रदेश इस महामारी की रोकथाम तथा कोविड टीकाकरण अभियान में देश के अन्य राज्यों के लिए एक आदर्श के रूप में उभरा है।

उन्होंने कहा कि कसौली निर्वाचन क्षेत्र के विभिन्न गांवों के लिए गिरी नदी से 104.03 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाली जलापूर्ति योजना, जिसका आज मुख्यमंत्री ने शिलान्यास किया वह क्षेत्र की पानी की समस्या को हल करने में मील पत्थर साबित होगी। उन्होंने कहा कि कसौली में उपमण्डलाधिकारी कार्यालय भी मुख्यमंत्री की उदारता के कारण ही संभव हुआ है।
राज्य महिला आयोग की अध्यक्षा डॉ. डेजी ठाकुर ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए उन्हें पिछले चार वर्षों के दौरान विधानसभा क्षेत्र में चलाए गए विभिन्न विकासात्मक कार्यों के संबंध में जानकारी दी।

दून विधानसभा क्षेत्र के विधायक परमजीत सिंह पम्मी, नालागढ़ के पूर्व विधायक के.एल. ठाकुर, कालका की पूर्व विधायक लतिका शर्मा, एपीएमसी के अध्यक्ष संजीव कश्यप, जल प्रबन्धन बोर्ड के अध्यक्ष दर्शन सिंह सैनी, भाजपा जिला अध्यक्ष आशुतोष वैद्य, वरिष्ठ भाजपा नेता डॉ. राजेश कश्यप, भाजपा मण्डलाध्यक्ष कपूर सिंह वर्मा, उपायुक्त कृतिका कुल्हरी सहित अन्य गणमान्य भी इस अवसर पर उपस्थित थे।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllEscort