एन ए आई ब्यूरो।

मंडी, मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज मण्डी ज़िला की दं्रग विधानसभा क्षेत्र के औट में एक जनसभा को सम्बोधित करते हुए पशु औषधालय कोट खमरादा को स्तरोन्नत कर पशु अस्पताल बनाने, प्राथमिक पाठशाला देहरा नाला को स्तरोन्नत कर माध्यमिक पाठशाला बनाने, रेहन में प्राथमिक पाठशाला खोलने, क्षेत्र की विभिन्न सड़कों के निर्माण और उन्नयन के लिए 15 लाख रुपये प्रदान करने और नगवाईं और टकोली के मध्य राज्य वन निगम का बालन डिपो खोलने की घोषणा की।

जय राम ठाकुर ने कहा कि फोरलेन प्रभावित परिवारों को पर्याप्त मुआवजा प्रदान करने के लिए संबंधित प्राधिकरणों के साथ मामला उठाया जाएगा। उन्होंने कहा कि औट में हिमाचल प्रदेश दुग्ध प्रसंघ (मिल्कफेड) का प्रापण केन्द्र या दुग्ध अभिशीतन संयंत्र स्थापित करने के लिए सर्वेक्षण किया जाएगा ताकि क्षेत्र के लोगों को लाभ मिल सके।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार ने अपने चार वर्षों के कार्यकाल में द्रंग विधानसभा क्षेत्र का समुचित एवं सर्वांगीण विकास सुनिश्चित किया है। उन्होंने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार का चार वर्ष का यह कार्यकाल पूर्व सरकार के 40 वर्षों के कार्यकाल से बेहतर रहा है क्योंकि उस अवधि में क्षेत्र में विकास कार्यों में भेदभाव किया गया। उन्होंने कहा कि कोरोना महामारी ने न केवल वैश्विक अर्थव्यवस्था पर विपरीत प्रभाव डाला है अपितु हमारी जीवनचर्या को भी प्रभावित किया है। उन्होंने कहा कि सौभाग्यवश इस परीक्षा की घड़ी में देश प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सक्षम नेतृत्व में सुरक्षित रहा है। उन्होंने कहा कि इस विपदा में पार्टी कार्यकर्ता और पदाधिकारियों ने आगे बढ़कर जरूरतमंदों की हर संभव सहायता की है। इसके विपरीत कांग्रेस नेता केवल इस संवेदनशील मुद्दे का राजनीतिकरण करने में ही व्यस्त रहे।

जय राम ठाकुर ने कहा कि वर्तमान प्रदेश सरकार मण्डी जिला के नागचला में राज्य के लिए ग्रीनफील्ड हवाई अड्डा स्वीकृत करवाने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। उन्होंने कहा कि यह हवाई अड्डा न केवल सामरिक महत्व का होगा बल्कि क्षेत्र में पर्यटन विकास को बढ़ावा देने में भी सहायक सिद्ध होगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार के चार वर्षों के कार्यकाल में पूरे राज्य का एकसमान और सर्वांगीण विकास सुनिश्चित किया गया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि केन्द्र सरकार और विशेष तौर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राज्य के लोगों को उदार सहायता उपलब्ध करवाई है। उन्होंने कहा कि कोविड महामारी के बावजूद प्रधानमंत्री ने राज्य का दौरा कर अटल टनल रोहतांग प्रदेश के लोगों को समर्पित की। हाल ही में प्रदेश सरकार के चार वर्षों का कार्यकाल पूर्ण होने पर प्रधानमंत्री ने राज्य के लोगों के लिए 11,500 करोड़ रुपये लागत की परियोजनाओं के शिलान्यास एवं लोकार्पण किए। उन्होंने कहा कि स्वदेशी वैक्सीन विकसित होने से देश के करोड़ों लोगों को कोरोना महामारी से सुरक्षा प्राप्त हुई है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के सक्षम नेतृत्व में देश में विश्व का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियन प्रारम्भ किया गया। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश लक्षित पात्र आबादी को शत प्रतिशत टीकाकरण करने वाला देश का पहला राज्य बना है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि सोलन में आयोजित 52वें पूर्ण राज्यत्व दिवस समारोह के अवसर पर उन्होंने घरेलू उपभोक्ताओं को 60 यूनिट से कम विद्युत की खपत पर शून्य बिल की घोषणा की थी, जिससे प्रदेश के साढ़े चार लाख परिवारों को लाभ मिलेगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने 60 यूनिट से कम विद्युत खपत करने वाले उपभोक्ताओं को मीटर रेंट और सेवा शुल्क में भी छूट दी है। उन्होंने कहा कि प्रतिमाह 60 से 125 यूनिट विद्युत खपत करने वाले उपभोक्ताओं से एक रुपये 90 पैसे के स्थान पर अब केवल एक रुपया प्रति यूनिट की दर से ही बिल लिया जाएगा। इस निर्णय से राज्य के लगभग 11 लाख परिवारों को लाभ मिलेगा।

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर प्रदेश सरकार के गत चार वर्षों के कार्यकाल में राज्य के विकास और विभिन्न वर्गों के कल्याण के लिए प्रारम्भ की गई विभिन्न विकास योजनाओं का भी विस्तार से ब्यौरा दिया।

उन्होंने वसंत पंचमी के शुभ अवसर पर राज्य के लोगों को शुभकामनाएं भी दीं।

इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने हनोगी में ब्यास नदी पर निर्मित होने वाले हनोगी पुल के निर्माण कार्य का भी निरीक्षण किया। लगभग 22 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले इस पुल से दं्रग और सराज विधानसभा क्षेत्र आपस में जुड़ जाएंगे। उन्होंने मनाली फोरलेन सड़क परियोजना के अंतर्गत निर्मित की जा रही रैंश नाला टैªफिक टनल-4 का भी दौरा किया और अधिकारियों को इस परियोजना को समयबद्ध पूर्ण करने के निर्देश दिए। उन्होंने थलौट में लोक निर्माण विभाग के मण्डल कार्यालय का लोकार्पण भी किया, जिससे बालीचैकी, पनारसा और पंडोह क्षेत्र के लोगों को लाभ मिलेगा।

मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर औट में 1.15 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाली बचत समिति की दुकानों का शिलान्यास किया। उन्होंने औट में घाट स्थल का दौरा भी किया।

दं्रग के विधायक जवाहर ठाकुर ने मुख्यमंत्री का उनके गृह क्षेत्र के थलौट में लोक निर्माण विभाग का मण्डल कार्यालय समर्पित करने के लिए आभार व्यक्त करते हुए कहा कि यह कार्यालय क्षेत्र के सड़क नेटवर्क को सुदृढ़ करने में दूरगामी साबित होगा। उन्होंने कहा कि हनोगी पुल न केवल दं्रग और सराज विधानसभा क्षेत्र के मध्य यह बेहतर सम्पर्क सुनिश्चित करेगा, बल्कि थलौट और औट क्षेत्र में आर्थिक गतिविधियों को बढ़ावा देने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। उन्होंने मण्डी जिला में राज्य का दूसरा विश्वविद्यालय स्थापित करने के प्रदेश सरकार के निर्णय के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि गत चार वर्षों में द्रंग विधानसभा क्षेत्र में लगभग 417 करोड़ रुपये की पेयजल योजनाएं और सड़क परियोजनाएं क्रियान्वित की गईं हैं। उन्होंने क्षेत्र की विभिन्न विकास संबंधी मांगों का ब्यौरा भी प्रस्तुत किया। भूतपूर्व सैनिक निगम के पूर्व अध्यक्ष ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर ने फोर-लेन परियोजना के कारण औट बाजार के विस्थापित दुकानदारों के लिए औट में बचत समिति की दुकानों का शिलान्यास करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने मुख्यमंत्री से औट और थलौट बाजार से विस्थापितों को उचित मुआवजा दिलाने की मांग भी की। उन्होंने राज्य को कोरोना संकट से सफलतापूर्वक उबारने के लिए भी मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया।

इस अवसर पर स्थानीय पंचायत के प्रधान भूषण वर्मा ने मुख्यमंत्री व अन्य गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया। उन्होंने क्षेत्र की कुछ विकासात्मक मांगों के बारे में भी विस्तार से बताया।

सुन्दरनगर के विधायक राकेश जम्वाल, जिला परिषद अध्यक्ष पाल वर्मा, वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष राज बली, जिला मण्डी के भाजपा अध्यक्ष रणवीर सिंह, भाजपा मण्डल अध्यक्ष सिराज भागीरथ शर्मा, भाजपा मण्डल अध्यक्ष द्रंग दलीप सिंह, उपायुक्त मण्डी अरिन्दम चैधरी, पुलिस अधीक्षक शालिनी अग्निहोत्री, मुख्य अभियन्ता लोक निर्माण विभाग अजय गुप्ता, मुख्य अभियन्ता जल शक्ति विभाग धर्मेन्द्र गिल और अन्य गणमान्य व्यक्ति इस अवसर पर उपस्थित थे।

 

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *