एन ए आई, ब्यूरो।

शिमला, योगाभ्यास व्यक्ति के मन, शरीर और आत्मा को नियंत्रित करने में सहायक होता है। योग शारीरिक और मानसिक अनुशासन को बनाए रखते हुए शरीर और मन को शांति प्रदान करता है। यह बात मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज यहां रिज मैदान पर राज्य के आयुष विभाग द्वारा आयोजित अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस-2022 के अवसर पर योग क्रियाओं में भाग लेने के बाद मीडिया से अनौपचारिक बातचीत करते हुए कही। मुख्यमंत्री ने 8वें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर सीधे प्रसारण के माध्यम से कर्नाटक के मैसूर पैलेस मैदान से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सम्बोधन भी सुना।

जय राम ठाकुर ने कहा कि योग तनाव और चिंता दूर करता है और हमें ऊर्जावान बनाए रखता है। उन्होंने कहा कि यह शरीर में लचीलापन और मांसपेशियों की ताकत बढ़ाने के साथ ही श्वसन प्रक्रिया और आंतरिक ऊर्जा के स्तर में भी बढ़ोत्तरी करता है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को देश में योग को बढ़ावा देने का श्रेय देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने वर्ष 2014 में संयुक्त राष्ट्र महासभा में अपने सम्बोधन के दौरान अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का विचार प्रस्तुत किया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने योग को भारत की प्राचीन परम्परा के एक अमूल्य उपहार की संज्ञा देते हुए मनुष्य और प्रकृति के बीच सामंजस्य का आह्वान किया था।

इस अवसर पर शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज, राज्य हस्तशिल्प एवं हथकरघा निगम के उपाध्यक्ष संजीव कटवाल, नगर निगम शिमला की महापौर सत्या कौंडल, एसजेवीएनएल के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक नंद लाल शर्मा, सचिव आयुष राजीव शर्मा, उपायुक्त शिमला आदित्य नेगी, निदेशक सूचना एवं जनसंपर्क हरबंस सिंह ब्रसकोन, पुलिस अधीक्षक मोनिका सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *