एन ए आई, ब्यूरो।

ऊना, वन विभाग की टीम ने वन माफिया की बड़ी साजिश को नाकाम कर दिया है। ऊना होशियारपुर रोड पर हिमाचल के अंतिम स्टेशन पंडोगा बैरियर पर अवैध लकड़ी से लदी 7 गाड़ियों को मौके पर धर दबोचा गया है। बताया जा रहा है कि इन गाड़ियों में प्रतिबंधित लकड़ी भी लदी हुई है। वन विभाग की टीम ने लकड़ी को ज़ब्त करते हुए घंडावल स्थित अपने स्टोर पर पहुंचा दिया है।

वही मामले की तहकीकात शुरू कर दी गई है। बताया जा रहा है कि यह अवैध लकड़ी ऊना और हमीरपुर दोनों जिलों के वनों से काटी गई है। वन विभाग ने लकड़ी तस्करी की कोशिश को रविवार तड़के करीब 5:30 बजे नाकाम किया गया।

इन दिनों जिला भर में वन माफिया पूरी सक्रियता दिखा रहा है वहीं वन विभाग ने भी माफिया पर लगाम कसने के लिए मुस्तैदी बढ़ा दी है। माफिया की इसी साजिश को रविवार तड़के करीब 5:30 बजे हरोली उपमंडल के पंडोगा क्षेत्र बैरियर पर उस समय नाकाम किया गया, जब वन विभाग की टीम ने नाकेबंदी पर अवैध लकड़ी से भरी 7 गाड़ियों को कब्जे में ले लिया।

बताया जा रहा है कि यह लकड़ी ऊना और हमीरपुर दोनों जिलों से तस्करी करते हुए पंजाब ले जाई जा रही थी। गौरतलब है कि वनों में फायर सीजन को देखते हुए हर तरह के कटान पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया गया है लेकिन इसके बावजूद लकड़ी माफिया अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा। नाकेबंदी के दौरान पकड़ी गई अवैध लकड़ी से लदी 7 गाड़ियों को वन विभाग की टीम ने माल सहित ज़ब्त करते हुए घंडावल स्थित अपने स्टोर पर पहुंचा दिया है। लकड़ी तस्करी की इस घटना में प्रतिबंधित लकड़ी को भी पंजाब ले जाए जाने की बात सामने आ रही है। वन विभाग ने घटना के संबंध में पुलिस के पास भी मुकदमा दर्ज करवाया है।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *