एन ए आई, ब्यूरो।

हमीरपुर, चालक की लापरवाही से हिमाचल पथ परिवहन निगम(एचआरटीसी) बस में बेटी के साथ सफर कर रही महिला को परेशानी झेलनी पड़ी। महिला मंगलवार सुबह 9:05 पर शिमला आईएसबीटी से रोहड़ू-चामुंडा बस में ज्वालाजी जाने के लिए सवार हुई। हमीरपुर बस अड्डे में महिला बेटी के साथ शौचालय जाने के लिए बस से उतरी और लेकिन लौटने पर बस काउंटर पर नहीं थी।

मामले की शिकायत एचआरटीसी के प्रबंध निदेशक संदीप कुमार को की गई। प्रबंध निदेशक ने तुरंत कार्रवाई करते हुए ड्यूटी में लापरवाही बरतने पर चालक को चार्जशीट करने के आदेश दे दिए। शिमला के सुन्नी की रहने वाली संगीता ने बताया कि बुधवार को उनकी बेटी को ब्वॉयज स्कूल ज्वालाजी में लैपटॉप मिलना था, इसलिए मंगलवार को ज्वालाजी जा रहे थे। हमीरपुर बस अड्डे में चालक ने कहा कि थोड़ी देर बस रुकेगी।

इसके बाद वह बेटी के साथ शौचालय चली गई। लौटने पर बस गायब थी। इसके बाद पति को फोन कर घटनाक्रम की जानकारी दी। इसके बाद 400 रुपये किराये पर टैक्सी लेकर बस को पकड़ना पड़ा। बस में सवार होने के बाद जब कंडक्टर से लापरवाही का कारण पूछा तो बोला मैं पहली बार लांग रूट में ड्यूटी दे रहा हूं।

मैने सीटी भी मारी लेकिन ड्राइवर ने बस नहीं रोकी। जब ड्राइवर से लापरवाही का कारण पूछा तो कोई जवाब नहीं दिया। संगीता ने बताया कि बस से उतरते समय पर्स उनके पास था। इसलिए वह फोन इस्तेमाल कर पाई और किराये पर टैक्सी ले पाई, अगर पर्स भी बस में ही रह जाता तो समस्या हो जाती। एचआरटीसी के क्षेत्रीय प्रबंधक रोहड़ू अनिल शर्मा ने बताया कि शिकायत मिलने के बाद मामले की तुरंत जांच कर रिपोर्ट प्रबंध निदेशक को दे दी गई है।

वही संदीप कुमार, प्रबंध निदेशक, एचआरटीसी ने कहा के एचआरटीसी बस में सफर कर रही महिला और उनकी बेटी को हमीरपुर बस अड्डे पर छोड़ने की शिकायत पर संबंधित क्षेत्रीय प्रबंधक को मामले की जांच के आदेश दिए हैं। किसी भी सूरत में ड्यूटी में कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। सेवा नियम 16 में चालक को चार्जशीट किया जाएगा।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllEscort