एन ए आई, ब्यूरो।

शिमला, भाषा एवं संस्कृति विभाग हिमाचल प्रदेश और कला सूचना मनोरंजन सोसायटी शिमला के संयुक्त तत्वावधान में चित्रकला व नृत्य प्रतियोगिता आयोजित की जा रही है। यह प्रतियोगिता दुर्गा मंदिर कनलोग शिमला में 15 मई 2022 रविवार के दिन प्रात:9बजे आरंभ होगी। इस बात की जानकारी मंगलवार को रोटरी क्लब शिमला में आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान कला सूचना मनोरंजन सोसायटी शिमला की चेयरमैन आरती शर्मा ने मीडिया को दी। उन्होंने बताया कि इस प्रतियोगिता में पुलिस अधीक्षक शिमला मोनिका भूटूंगरू बतौर मुख्यातिथि उपस्थित रहेगी।

वहीं अपनी पंचायत के सम्पूर्ण विकास के लिए कार्य कर रहे व समाज सेवा में लगातार अपनी उपस्थिति दर्ज करवाने वाले बागी पंचायत के प्रधान नरेश ठाकुर विशेष अतिथि शिरकत करेंगे। इस दौरान भाषा एवं संस्कृति विभाग हिमाचल प्रदेश से आए गणमान्य अतिथि कार्यक्रम की शोभा बढ़ाएंगे। उन्होंने बताया कि खास बात यह है कि यह प्रतियोगिता बिल्कुल निशुल्क होगी।

लेकिन इस दोनों ही प्रतियोगिताओं के कुछ नियम निर्धारित किए गए हैं।चित्रकला प्रतियोगिता के लिए नियम जिसमें कुछ विषय पर आधारित ही प्रतियोगिता में भाग लेना है। वो विषय स्वच्छ हिमाचल, हरा-भरा हिमाचल, जल ही जीवन है,बेटी है अनमोल, नशा त्यागो जीवन नहीं, यातायात के नियमों का पालन,हमारी संस्कृति,हमारी पहचान है। प्रतिभागी अगर संभव हो तो अपने साथ अपना समान (वाटर कलर, पेंसिल, शार्पनर, रबड़,स्केल) लेकर आएं, जो प्रतिभागी अपना समान नहीं ला सकते उन्हें समान संस्था द्वारा दिया जाएगा।

गत्ता,या बोर्ड अवश्य लेकर आएं। अपने साथ अपने स्कूल का प्रमाण पत्र या पहचान पत्र अवश्य लेकर आएं। वहीं नृत्य प्रतियोगिता के लिए भी नियम निर्धारित किए गए हैं नृत्य प्रतियोगिता में दो राउंड होंगें पहले राउंड में किसी भी राज्य से जुड़ी वेशभूषा या पहनावा पहनकर नृत्य करना अनिवार्य है। दूसरे राउंड में आप अपने पसंदीदा किसी भी गीत पर नृत्य कर सकते हैं। विजेता प्रतिभागियों को वीडियो एल्बम में काम करने का मौका दिया जाएगा। दोनों ही प्रतियोगिता के लिए आयु श्रेणियां निर्धारित की गई है जिसमें श्रेणी 1:– 5 वर्ष से 9 वर्ष, श्रेणी 2:– 10 वर्ष से 15 वर्ष, श्रेणी 3:– 16 वर्ष से 20 वर्ष है। हर श्रेणी से जीतने वाले पहले तीन प्रतिभागियों को पुरस्कृत किया जाएगा। सभी प्रतिभागियों को प्रमाण पत्र दिए जाएंगे।

गौर हो की कला सूचना मनोरंजन सोसाइटी द्वारा छुपी हुई प्रतिभा को निखारने व समाज में फैली बुराइयों व कुरीतियों के खिलाफ विभिन्न माध्यमों से जागरूकता फैलाने का कार्य किया जाता है। कोविड के दौरान संस्था द्वारा कार्य नहीं किए गए। लेकिन अब संस्था की चेयरमैन आरती शर्मा ने बताया कि हमें इस महामारी के साथ ही जीना है तो अब खुद सावधानी बरतते हुए भविष्य में इस तरह के कार्यक्रम जारी रहेंगे।

समय-समय पर इस तरह की गतिविधियां आयोजित की जाती है लेकिन कोवीड काल के दौरान कोई भी प्रतियोगिता संस्था आयोजित नहीं हुई। लेकिन अब संस्था के चेयरमैन आरती शर्मा ने कहा है कि कोविड़ के साथ ही हम लोगों को जीना है इसलिए अब हमें स्वयं को सुरक्षित रखकर आगे बढ़ना है। अब भविष्य में इस तरह की गतिविधियां जारी रहेगी।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *