एन ए आई, ब्यूरो।

शिमला, प्रदेश सरकार महिला सशक्तिकरण के लिए प्रतिबद्ध है और उनके सामाजिक-आर्थिक उत्थान के लिए कई योजनाएं आरम्भ की गई हैं। रक्षा बन्धन पर्व की पूर्व संध्या पर भाजपा महिला मोर्चा की ओर से आयोजित कार्यक्रम में बड़ी संख्या में उपस्थित महिलाओं को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार की इन योजनाओं का सीधा लाभ हिमाचल की लाखों महिलाओं तक पहुंच रहा है।

जय राम ठाकुर ने कहा कि महिलाएं हमारी कुल आबादी का लगभग 50 प्रतिशत हैं और इनकी सक्रिय भागीदारी के बिना विकास की कल्पना भी नहीं की जा सकती है। मुख्यमंत्री ने बताया कि ग्रामीण विकास और पंचायती राज मंत्री के रूप में उनके कार्यकाल के दौरान ही पंचायती राज संस्थाओं और शहरी निकायों में महिलाओं को 50 प्रतिशत आरक्षण प्रदान किया गया था। प्रदेश के विकास में महिलाओं की सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित करने के लिए उस समय की भाजपा सरकार ने यह महत्वपूर्ण निर्णय लिया था।

जय राम ठाकुर ने कहा कि राज्य सरकार ने महिला सशक्तिकरण सुनिश्चित करने के लिए मुख्यमंत्री शगुन योजना, बेटी है अनमोल और मुख्यमंत्री गृहिणी सुविधा जैसी अनेक योजनाएं शुरू की हैं। उन्होंने कहा कि इन सभी योजनाओं का उद्देश्य महिलाओं का सामाजिक-आर्थिक उत्थान सुनिश्चित करना है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने हिमाचल पथ परिवहन निगम की बसों में किराये में 50 प्रतिशत की छूट भी प्रदान की है।

इस अवसर पर भाजपा महिला मोर्चा की प्रदेश अध्यक्ष रश्मिधर सूद ने महिला सशक्तिकरण के लिए तत्पर रहने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त करते हुए उन्हें आगामी विधानसभा चुनावों में महिलाओं की ओर से हरसंभव सहयोग एवं समर्थन प्रदान करने का आश्वासन दिया। कार्यक्रम के दौरान सक्षम गुड़िया बोर्ड की अध्यक्ष रूपा शर्मा, भाजपा महिला मोर्चा की पदाधिकारी वंदना गुलेरिया, भाजपा आईटी संयोजक रिद्धिमा, महिला मोर्चा की अन्य पदाधिकारी और अन्य महिलाएं भी उपस्थित थीं।

इस दौरान महिला मोर्चा पदाधिकारियों के अलावा धार्मिक संस्था प्रजापिता ब्रह्मकुमारी की सदस्यों, तिब्बती समुदाय की महिलाओं, नर्सों, महिला अधिवक्ताओं, महिला पुलिस अधिकारियों और अन्य महिलाओं ने भी मुख्यमंत्री को राखी बांधी।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *