एन ए आई ब्यूरो।

ऊना, सीटू की जिला इकाई ने पटाखा फैक्ट्री ब्लास्ट कांड को लेकर शुक्रवार सुबह जिला मुख्यालय पर जम कर विरोध प्रदर्शन किया। सीटू के जिला सचिव गुरनाम सिंह इस दौरान विशेष रूप से मौजूद रहे। जिला के प्रमुख उद्योगों से सीटू की कामगार यूनियनों ने भी इस विरोध प्रदर्शन में भाग लिया। इस मौके पर कामगार यूनियन ने अवैध पटाखा फैक्ट्री में हुई घटना को लेकर प्रशासन और विभागों को जिम्मेदार ठहराया। यूनियन का कहना है कि विभागों की मिलीभगत से ही यह अवैध कारोबार जिला में चलता रहा। उन्होंने आठ महिला कामगारों की मौत के लिए सरकारी विभागों के साथ साथ प्रशासन को भी जिम्मेदार ठहराया है। सीटू ने मांग की है कि घटना में मारी गई महिलाओं के परिजनों को 50-50 लाख रुपये की मुआवजा राशि दी जाए। जबकि घायलों को भी 20-20 लाखों रुपए का मुआवजा दिया जाए। सीटू के जिला सचिव गुरनाम सिंह ने इस दौरान मांग की है कि इस पूरे प्रकरण की जांच हाईकोर्ट के रिटायर्ड जज से कराई जाए। उन्होंने कहा कि जितने भी सरकारी एजेंसियों को जांच में लगाया गया है, उनसे निष्पक्ष जांच की उम्मीद सीटू को बिल्कुल भी नहीं है।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *