एन ए आई, ब्यूरो।

नेरवा, हिमाचल प्रदेश के शिमला जिले के नेरवा में बड़ा सड़क हादसा हुआ है। बेटी के घर संतान होने की खुशी में बधाई देने जा रहे पुलबाहल क्षेत्र के एक ही परिवार के चार सदस्यों की एक दर्दनाक सड़क हादसे में मौत हो गई है जबकि एक गंभीर रूप से घायल होकर जिंदगी और मौत की जंग लड़ रहा है। जानकारी के अनुसार एक ही परिवार के आठ लोग दो गाड़ियों में पुलबाहल से ग्राम पंचायत देइया के चीलराना गांव जा रहे थे। बोलेरो जीप में पांच लोग सवार थे, जबकि कार में तीन लोग सवार थे। इस दौरान नेरवा-चौपाल मार्ग पर न्योटी से करीब 200 मीटर पहले बोलेरो जीप करीब 100 मीटर खाई में जा गिरी।

बोलेरो के पीछे दूसरी कार में जा रहे परिवार के अन्य सदस्यों ने बताया कि सामने से तेज गति में बाइक को बचाने के चक्कर में जीप चालक संतुलन खो बैठा। जीप सीधे हामलटी खड्ड में जा गिरी। एक महिला का शव खड्ड के बहाव में करीब 800 मीटर तक बह गया था। जिस स्थान पर हादसा हुआ, वह इतना दुर्गम है कि शवों को निकलने के लिए आधा किलोमीटर दूर से घूमकर खड्ड में पहुंचना पड़ा। इन्हें निकलने में पुलिस टीम और स्थानीय लोगों को करीब डेढ़ घंटे का समय लग गया। गंभीर घायल एक व्यक्ति को आईजीएमसी शिमला रेफर कर दिया गया है। तीन लोगों की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि एक ने नेरवा अस्पताल में दम तोड़ा।

मृतकों की पहचान पदम् सिंह(52)पुत्र रति राम, सीमा देवी(48) पत्नी पदम् सिंह व पन्ना देवी निवासी गांव भूनी पंचायत तुंडल व सुनीता देवी पत्नी निहाल सिंह निवासी गांव रेवाड़ तहसील चौपाल शिमला के रूप में हुई है। घायल रूप सिंह(55) पुत्र रति राम मृतक पदम् सिंह का सगा भाई है। दोनों भाइयों की पत्नियां भी मृतकों में शामिल हैं। प्रशासन की तरफ से तहसीलदार नेरवा जगपाल सिंह ने मृतकों के परिजनों को 10-10 हजार रुपये की फौरी राहत प्रदान की गई है। एसडीपीओ चौपाल राज कुमार ने हादसे की पुष्टि की है ।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *