एन ए आई, ब्यूरो।

ज्वालामुखी, 26 सितंबर से शुरू नवरात्र में ज्वालामुखी मंदिर के अंदर नारियल ले जाने पर प्रतिबंध लगाया है। यह जानकारी मंदिर प्रबंधन के एक प्रवक्ता ने बुधवार को दी। नवरात्र में लाखों श्रद्धालु मां ज्वालाजी का दर्शन करने आते हैं।

मंदिर परिसर में फोटो खींचने पर भी प्रतिबंध रहेगा। मंदिर प्रबंधन के एक प्रवक्ता के अनुसार मंदिर के कपाट सुबह पांच बजे खुल जाएंगे और इसके बंद होने का समय दैनिक आधार पर मंदिर आने वाले तीर्थयात्रियों की संख्या के आधार पर तय किया जाएगा। मंदिर में निर्धारित समय पर आरती और भोग प्रसाद किया जाएगा। मंदिर परिसर और शहर की साफ-सफाई के लिए 100 अतिरिक्त सेवादार नियुक्त किए गए है और 50 अतिरिक्त पुलिसकर्मियों की भी तैनाती की गई है।

मंदिर में छह नए डिजिटल सीसीटीवी कैमरे लगाए गए हैं, जिनको मिलाकर मंदिर की सुरक्षा के लिए कुल 72 कैमरे काम कर रहे हैं। प्रवक्ता ने कहा कि ज्वालामुखी शहर में बड़े वाहनों का प्रवेश भी वर्जित रहेगा। शहर के बाहर दो पार्किंग बनाई गई हैं, जहां सभी बड़े वाहन खड़े किए जाएंगे और और वहीं से बसें चलाई जाएंगी, जो श्रद्धालुओं को मंदिर तक मुफ्त में छोड़ेंगी। नवरात्र के लिए शहर में पुलिस कंट्रोल रूम भी स्थापित किया जाएगा। इसके अलावा कई जगहों पर अस्थाई पुलिस चौकियां भी स्थापित की जाएगी। ज्वालामुखी के एसडीएम मनोज ठाकुर ने कहा कि मंदिर प्रशासन द्वारा नवरात्र को ध्यान में रखते हुए व्यापक इंतजाम किए गए हैं और श्रद्धालुओं को सभी प्रकार की सुविधाएं मिलेगी।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *