एन ए आई, ब्यूरो।

धर्मशाला, हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में बुधवार को मूसलाधार बारिश हुई है। सूबे में प्रीमॉनसून की बारिश देखने को मिली है. कांगड़ा के कई इलाकों में काफी पानी बरसा है. बारिश की वजह से कांगड़ा में बुधवार को नदी नाले उफान पर आ गए। आलम यह हुआ कि धर्मशाला के कैंटनाला में बाढ़ की चपेट में वाहन आ गए।

दरअसल, कैंटनाला में जुलाई 2021 में आये जलजले के दौरान यह सड़क बह गई थी, जो आज दिन तक नहीं बन पाई है। इसके चलते यहां हमेशा इस तरह के हादसे होने का ख़तरा बना रहता है, हुआ भी कुछ ऐसा ही। अचानक से बढ़ गये जलस्तर की चपेट में आने से एक लग्ज़री कार बह गई और परिवार की जान बच गई, लोगों ने वाहन को निकालने के लिये की कड़ी मशक्कत करनी पड़ी. कांगड़ा में तूफान और बारिश के चलते बिजली सप्लाई भी बाधित रही।

कांगड़ा और धर्मशाला में गर्मी से लोग और टूरिस्ट काफी परेशान थे। यहां पर गर्मी ने रिकॉर्ड तोड़ दिया था. सोमवार को धर्मशाला में रिकॉर्ड टूटा था, यहां वर्ष 1995 में अधिकतम तापमान 38.6 डिग्री दर्ज हुआ था। छह जून 2022 को धर्मशाला का अधिकतम पारा 37.6 रिकॉर्ड हुआ था। ऐसे में धर्मशाला में कभी सबसे अधिक बारिश होती थी, लेकिन गर्मी रिकॉर्ड तोड़ रही है. धर्मशाला में बुधवार को 17.4 एमएम बारिश हुई है।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllEscort