एन ए आई, ब्यूरो।

लाहौल, हिमाचल प्रदेश के तकनीकी शिक्षा और जनजातीय विकास मंत्री डॉ. रामलाल मार्कण्डेय ने शुक्रवार को लाहौल- स्पिति विधानसभा क्षेत्र के उदयपुर मंडल में करोड़ों रुपये की योजनाओं के शिलान्यास और उद्घाटन किए। तकनीकी शिक्षा मंत्री ने सलपट में 3 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित पुल का उद्घाटन किया, उन्होंने कहा कि इस पुल से सलपट के निवासियों, छात्रों सहित साथ लगते गांव के लोगों को भी लाभ मिलेगा।

डॉ. रामलाल मार्कण्डेय ने कहा कि पहाड़ी और कठिन भौगिलिक परिस्थितियों वाले प्रदेश में सड़कें यातायात का महत्वपूर्ण साधन हैं। प्रदेश की प्रगति में सड़कों की भूमिका के मद्देनजर सरकार ने सड़कों-पुलों के निर्माण को विशेष प्राथमिकता दी है। उन्होंने कहा कि सड़कें हमारी जीवन रेखाए हैं और प्रत्येक गांव को वाहन योग्य सड़क मार्ग से जोड़ना उनकी सर्वोच्च प्राथमिकता है।

डॉ. मार्कण्डेय ने कहा कि सरकार ने निर्धारित लक्ष्यों को पूर्ण करने बाद प्रदेश में वाहन योग्य सड़कों की लंबाई 40 हजार किलोमीटर से अधिक हो गई है, उन्होंने कहा कि प्रदेश में सड़कों और पुलों के निर्माण पर 4373 करोड़ रुपये खर्च किए जा रहे हैं। सरकार ने 1060 किलोमीटर वाहन योग्य सड़कों का निर्माण, 2065 किलोमीटर सड़कों को पक्का और 75 से अधिक पुलों का निर्माण किया गया है।

तकनीकी शिक्षा मंत्री डॉ रामलाल मार्कण्डेय ने बरदंग में 34 लाख रुपये की लागत से निर्मित पशु औषधालय का उद्घाटन किया। उन्होंने कहा कि इस पशु औषधालय से सकोली पंचायत के लगभग सात गांव के लोगों के लगभग 250 पशुधन को इलाज की सुविधा होगी, तकनीकी शिक्षा मंत्री ने कहा कि पशुधन किसानों की आर्थिकी का मुख्य स्रोत है, इसलिये प्रदेश सरकार द्वारा पशु औषधालयों के सुदृढ़ीकरण पर बल दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार किसानों के मवेशियों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान कर रही है। दुधारु पशु नस्ल को स्तरोन्नत करने तथा पशु स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार लाने पर विशेष बल दिया जा रहा है।

तकनीकी शिक्षा मंत्री ने कहा कि जयराम सरकार ने जनहित में अनेकों निर्णय लिए हैं, महिलाओं को एचआरटीसी की बसों के किराए में 50 प्रतिशत छूट दी है। इसके अलावा 125 यूनिट तक प्रतिमाह बिजली की खपत करने वाले उपभोक्ताओं को बिजली बिल पूरी तरह माफ कर बड़ी राहत प्रदान की है। डॉ. रामलाल मार्कण्डेय ने कहा कि यह सभी निर्णय आम आदमी को राहत प्रदान करने के लिए लिए गए हैं।

इस दौरान तकनीकी शिक्षा मंत्री ने बरदंग, सलपट और उदयपुर में लोगों की समस्याओं को सुना और अधिकतर का मौके पर ही निपटारा कर दिया और शेष समस्याओं के समाधान के लिए संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिए।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *