एन ए आई, ब्यूरो।

शिमला, प्रदेश भर के सस्ते राशन के डिपुओं में सितंबर माह में दालों की सप्लाई अभी तक नहीं पहुंच पाई है। कारण साफ है कि तीन माह के टेंडर पूरे हो चुके हैं और नए टेंडर के रेट तय किए जा रहे हैं। उसके बाद ही दालों की सप्लाई गोदामों को भेजी जाएगी। इस प्रक्रिया को पूरा होने में अभी एक से दो हफ्ते और लग जाएंगे। ऐसे में राशनकार्ड धारकों को इस माह दालों से बंचित रहना पड़ सकता है। हालांकि गोदामों में तेल व रिफाइंड की सप्लाई पहुंचने से राशनकार्ड धारकों ने जरूर राहत की सांस ली है। बता दें कि प्रदेश के 5044 सस्ते राशन के डिपुओं में सितंबर माह का दालों का कोटा अभी तक नहीं पहुंच पाया है।

दालों के टेंडर न होने से इसमें देरी हो रही है। ऐसे में प्रदेश के करीब 19 लाख 27 हजार 71 राशनकार्ड धारकों के 73 लाख 80 हजार 164 उपभोक्ता प्रभावित होंगे, जिन्हें बाजार से महंगे दामों पर दालें खरीदनी पड़ेगी। हालांकि डिपुओं में सरसों तेल व रिफाइंड तेल की सप्लाई पहुंचने से राशनकार्ड धारकों ने जरूर राहत की सांस ली है। दालों के टेंडर नए सिरे से किए जाएंगे। ऐसे में इस प्रक्रिया को पूरा होने में अभी दस से 12 दिन और लग सकते हैं, जबकि डिपुओं में सितंबर माह का राशन डिपो होल्डरों ने बांटना शुरू कर दिया है। इसके चलते प्रदेश के लाखों उपभोक्ताओं को इस बार बिना दालों के ही राशन खरीदना होगा। राशनकार्ड धारक भी आधा अधूरा राशन मिलने से खासे परेशान हैं।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *