एन ए आई, ब्यूरो।

कांगड़ा, हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले में लगातार हो रही बारिश से हर जगह प्रलय जैसा नजारा है. यहां चम्बापत्तन पुल के पास ब्यास नदी के तेज बहाव में एसडीएम ज्वालामुखी मनोज ठाकुर की निजी गाड़ी पानी में बह गई. हालांकि इस गाड़ी में सवाल एसडीएम बाल-बाल बच गए। स्थानीय युवाओं ने पहले एसडीएम को गाड़ी से बाहर सुरक्षित निकाला और उसके बाद ट्रैक्टर की सहायता से गाड़ी को भी निकाला।

यह घटना शनिवार सुबह दस बजे की है, जब एसडीएम ज्वालामुखी मनोज ठाकुर अपनी निजी गाड़ी से दफ्तर के लिए जा रहे थे। चम्बापत्तन पर बने ब्यास पुल से गुजरते ही ब्लारडु से ज्वालामुखी जाने लगे तो ब्यास नदी का जलस्तर एकाएक बढ़ गया, जिसमें सड़क पर ब्यास नदी का पानी आ गया, एसडीएम की गाड़ी भी पानी में बहने लगी।

यह देख स्थानीय युवाओं ने जान जोखिम में डालकर एसडीएम मनोज को सुरक्षित बाहर निकाला, लेकिन पानी के तेज बहाव में गाड़ी बहने लगी, तुरंत स्थानीय युवक अनिल चौधरी लोकल ठेकेदार सुधीर शर्मा का ट्रैक्टर लेकर आए और गाड़ी को भी काफी मशक्कत के बाद निकाल लिया गया।

वहीं पास में ही रहने वाले अनिल चौधरी ने बताया कि वह भी मौके पर मौजूद थे। उन्होंने ही गाड़ी को डूबते हुए देखा, फिर स्थानीय युवकों की मदद से एसडीएम ज्वालामुखी मनोज ठाकुर को बाहर निकाला। ब्यास नदी का जलस्तर लगतार बढ़ रहा था, गाड़ी भी नदी में बहती हुई जा रही थी। अनिल चौधरी ने बताया कि ठेकेदार सुधीर शर्मा का घर पास ही है, उनके ट्रैक्टर से एसडीएम की गाड़ी को खींचकर बाहर निकाला गया।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *