एन ए आई ब्यूरो।

कंपनी ने कहा है कि 2023 से पहले इनमें एंड टु एंड एन्क्रिप्शन नहीं मिलेंगे।फेसबुक मैसेंजर और इंस्टाग्राम में वॉट्सऐप की तरह एंड टु एंड एन्क्रिप्शन के लिए लंबा इंतजार करना होगा।

वॉट्सऐप चैट्स में एंड टु एंड एन्क्रिप्शन दिया जाता है जो इसे सिक्योर बनाता है यह वॉट्सऐप मेटा के अंदर आता है।मेटा की तहत फेसबुक, इंस्टाग्राम और वॉट्सऐप जैसी सर्विसेज़ आती हैं। फेसबुक की पेरेंट कंपनी मेटा ने कहा कि फेसबुक मैसेंजर चैट्स और इंस्टाग्राम में 2023 से पहले एंड टु एंड एन्क्रिप्शन नहीं दिया जाएगा।

2019 में फेसबुक ने ऐलान किया था कि सभी प्लैटफॉर्म्स पर मैसेजिंग में एंड टु एंड एन्क्रिप्शन दिया जाएगा। लेकिन अब इसे डीले किया जा रहा है और चैट एन्क्रिप्शन के लिए यूजर्स को 2023 तक का इंतजार करना होगा। मेटा के ग्लोबल सेफ्टी चीफ ने कहा है कि फेसबुक मैसेंजर और इंस्टाग्राम के चैट्स में एंड टु एंड एन्क्रिप्शन 2023 से पहले नहीं मिलेंगे।कंपनी के मुताबिक ये समय इसलिए लिया जा रहा है कि ताकि एक ही साथ मैसेंजर और इंस्टाग्राम चैट्स में एंड टु एंड एन्क्रिप्शन ग्लोबली रोल आउट किया जा सके।
इसी साल अप्रैल में फेसबुक ने टेलीग्राफ को बताया था कि  कंपनी फेसबुक और इंस्टाग्रा में एंड टु एंड एन्क्रिप्शन 2022 में देगी। लेकिन अब ऐसा होता हुआ दिखाई नहीं दे रहा है।एंड टु एंड एन्क्रिप्शन एक एन्क्रिप्शन स्टैंडर्ड है जिसके तहत किए गए कम्यूनिकेशन सिक्योर होते हैं।सेंडर और रीसिवर के अलावा कोई भी तीसरा मैसेज को नहीं सकता है।मैसेंजर में अभी भी एंड टु एंड एन्क्रिप्शन है लेकिन फेसबुक मैसेंजर में सिक्रेट कॉन्वर्सेशन का ऑप्शन है। अगर आप इस ऑप्शन के तहत किसी से बात करते हैं तो वो चैट्स एंड टु एंड एन्क्रिप्टेड होते हैं।

सिक्रेट कॉन्वर्सेशन के अंदर कई फीचर्स और भी हैं। जैसे आप चाहें तो मैसेज खुद से गायब होने के लिए टाइम भी लगा सकते हैं। हालांकि ये सीक्रेट कॉन्वर्सेशन ऑप्शनल है।मेटा ने अभी जो कहा है इसका मतलब ये है कि 2023 में मैसेंजर के नॉर्मल मैसेज में एंड टु एंड एन्क्रिप्शन आ जाएगा। मैसेंजर के साथ इंस्टाग्राम में भी एंड एंड टु एंड एन्क्रिप्शन का फीचर दिया जाएगा।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *