एन ए आई, ब्यूरो।

शिमला,  भारत सरकार 25 जुलाई से 30 जुलाई 2022 तक आजादी का अमृत महोत्सव के भाग के रूप में, उज्‍ज्‍वल भारत, उज्‍ज्‍वल भविष्य – विद्युत@ 2047 के अंतर्गत सप्ताह भर चलने वाला बिजली महोत्सव मना रहा है। नन्‍द लाल शर्मा, अध्‍यक्ष एवं प्रबंध निदेशक, एसजेवीएन ने बताया कि एसजेवीएन हिमाचल प्रदेश तथा पंजाब राज्यों के सभी 35 जिलों के 70 स्थानों के लिए नोडल एजेंसी है। इसके अतिरिक्‍त, एसजेवीएन हरियाणा, महाराष्ट्र, बिहार और गुजरात के 9 जिलों के 18 स्थानों पर बिजली महोत्सव का भी आयोजन कर रहा है।

आज एसजेवीएन ने उक्‍त समारोह का देश भर में कुल 15 स्थानों अर्थात हिमाचल प्रदेश के दो स्थानों, पंजाब के 10 स्थानों, गुजरात, हरियाणा और महाराष्ट्र में एक-एक स्थान पर आयोजन किया।

नन्‍द लाल शर्मा ने कहा कि सप्ताह भर चलने वाले इन समारोहों की श्रृंखला में, आज हिमाचल प्रदेश में, एसजेवीएन ने एचपीएसईबीएल और जिला प्रशासन के सहयोग से हिमाचल प्रदेश में दो स्थानों नामत: किन्नौर स्थित रिकांगपीओ और मंडी स्थित सुंदरनगर में बिजली महोत्सव का आयोजन किया।

इसी प्रकार, पंजाब में, एसजेवीएन ने बीईई, बीबीएमबी, पीएसपीसीएल और पंजाब के जिला प्रशासन के साथ अमृतसर, मोहाली, होशियारपुर, जालंधर, पठानकोट, भटिंडा, फाजिल्का, मलेरकोटला, मोगा, तरनतारन नामक दस स्थानों पर बिजली महोत्सव का आयोजन किया।

अमृतसर में आयोजित समारोह में माननीय विद्युत मंत्री (पंजाब), श्री हरभजन सिंह ने समारोह की शोभा बढ़ाई। मोहाली में माननीय पर्यटन और सांस्कृतिक मामलों के मंत्री, पंजाब श्री अनमोल गगन मान कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि उपस्थित थे।

गुजरात में, एसजेवीएन ने जिला प्रशासन, पटड़ी, सुरेंद्रनगर के साथ कार्यक्रम का आयोजन किया तथा माननीय वन, पर्यावरण एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री, गुजरात किरीट सिंह राणा ने कार्यक्रम की अध्यक्षता की।

हरियाणा में ग्राम भोदवा माज‍री, पानीपत में एसजेवीएन द्वारा जिला प्रशासन के साथ और महाराष्ट्र के अहमदनगर शहर में एसजेवीएन और जिला प्रशासन द्वारा कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

नन्‍द लाल शर्मा, आगे बताया कि बिजली महोत्सव प्रत्‍येक जिले में दो स्थानों (1556 स्थान) के साथ देश के सभी 773 जिलों में मनाया जा रहा है। भारत की जनता को समर्पित यह आयोजन देश की पूर्व उपलब्धियों और भविष्य की आकांक्षाओं के 75 वर्षों का महोत्‍सव है। यह आयोजन माननीय प्रधानमंत्री, श्री नरेंद्र मोदी के गतिशील नेतृत्व के तहत गत आठ वर्षों से विद्युत क्षेत्र में अभूतपूर्व विकास को प्रदर्शित कर रहा है।

विद्युत क्षेत्र की उपलब्धियों को प्रचारित करने के लिए विभिन्न सांस्कृतिक कार्यक्रम, नुक्कड़ नाटक और लघु फिल्मों की स्क्रीनिंग का भी आयोजन किया गया। नंद लाल शर्मा ने बताया कि एसजेवीएन इस राष्ट्रीय अभियान के सुचारू एवं सफल आयोजन को सुनिश्चित करने का हर संभव प्रयास कर रहा है।

नन्‍द लाल शर्मा ने कहा कि सप्ताह भर चलने वाले इस बिजली महोत्सव का ग्रैंड फिनाले दिनांक 30 जुलाई 2022 को उज्‍ज्‍वल दिवस के रूप में प्रधानमंत्री, नरेंद्र मोदी के संबोधन के साथ राष्ट्रीय स्तर पर मनाया जाएगा। इस आयोजन में, दस चिन्हित जिलों से विद्युत क्षेत्र की विभिन्न योजनाओं के लाभार्थी माननीय प्रधानमंत्री से वर्चुअली संवाद करेंगे।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *