एन ए आई, ब्यूरो।

ऊना, संतोषगढ़ निवासी दिलीप डोजी ने सिंगापुर में हुई अंतरराष्ट्रीय बाडी बिल्डिंग प्रतियोगिता में अलग अलग कैटागिरी में तीन सिल्वर मेडल झटके हैं। डोजी ने शानदार प्रदर्शन करते हुए विभिन्न देशों के प्रतिभागियों को पछाड़ दूसरे स्थान को हासिल कर अपने देश और हिमाचल का नाम वैश्विक स्तर पर रोशन किया है।

दिलीप डोजी ने 40 प्लस मास्टर्स श्रैणी में दूसरे स्थान व 70-75 श्रेणी में सहित मैन फीजिक 40 प्लस मास्टर्स कैटागिरी में भी दूसरे स्थानों पर रहते हुए तीन सिल्वर मेडल अपने नाम किए हैं। अपने होनहार की उपलब्धि की सूचना पाकर संतोषगढ़ वासी दिलीप के परिवार सदस्य फूले नहीं समा रहे हैं। उसके सगे संबंधियों और मित्रों में भी खुशी की लहर है। सिंगापुर से फोन पर जानकारी साझा करते हुए दिलीप डोजी ने बताया कि सिंगापुर में एफआइएफ के माध्यम से हुई प्रतियोगिता में करीब 22 देशों के महिला एवं पुरुष प्रतिभागियों ने भाग लिया। सिंगापुर, मलेशिया, थाईलैंड, कैनेडा आदि देशों के नामी बाडी बिल्डर्स यहां पहुंचे हैं। उन्होंने बताया कि हिमाचल प्रदेश से अकेले इस प्रतियोगिता में हिस्सा लिया। जबकि उनके साथ पंजाब आदि विभिन्न स्थानों से भारत के कुल आठ बाडी बिल्डर्स यहां अपनी प्रतिभा का हुनर दिखाने आए हैं। डोजी ने कहा कि उन्हें खुशी है कि प्रतियोगिता में देश का प्रतिनिधित्व करते हुए अपना 100 प्रतिशत देने की कोशिश की है।

यही वजह है कि तीन श्रेणियों में सिल्वर मेडल को प्राप्त किया है। उन्होंने अपनी सफलता का श्रेय गुरुजनों, परिवार सदस्यों सहित भगवान को दिया है। बता दें कि दिलीप डोजी इससे पूर्व शिमला, बद्दी और जिला ऊना के बाथू में मास्टर्स बाडी बिल्डिंग प्रतियोगिताओं में मास्टर्स कैटागिरी में मिस्टर हिमाचल का खिताब पा चुके हैं। अब वैश्विक स्तर पर उनका तीन सिलवर मेडल हासिल करना देश के लिए गौरव की बात है। फिलहाल डोजी संतोषगढ़ में गणपति जिम के संचालक भी हैं तथा बेटियों के परिवारों सहित गरीब युवाओं को निश्शुल्क जिम का लाभ प्रदान कर समाजिक सरोकारों का दायित्व भी निभा रहे हैं। वैश्विक स्तर पर उनके नाम रोशन करने से संतोषगढ़ जिला ऊना और प्रदेश का नाम भी विश्व पटल पर चमका है। डोजी ने बताया कि वह सिंगापुर से 5 अप्रैल को मंगलवार को वापस देश लौटेंगे।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *