एन ए आई, ब्यूरो।

मंडी, हिमाचल प्रदेश के मंडी जिले के सराज में इंडिया बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में बना है, यहां पर साफ-सफाई से जुड़े इस अभियान का नाम इंडिया बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में में दर्ज हुआ है।

दरअसल, मंडी दिले में जंजैहली टूरिज्म फेस्टिवल-2022 के समापन पर सोमवार को हुआ, यहां पर पहली बार ‘सराज प्लाग हाइकिंग’ का आयोजन किया गया. यह इवेंट इंडिया बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड्स में दर्ज हो गया है।

पर्यावरण संरक्षण का संदेश देने वाले इस अनूठे इवेंट में 345 महिला-पुरुषों ने भुलाह से शिकारी देवी तक करीब 12 किलोमीटर ट्रैकिंग करते हुए 1176.26 किलोग्राम प्लास्टिक का कूड़ा एकत्रत किया।

सूबे के सीएम जयराम ठाकुर ने भी प्रतिभागी बनकर इस आयोजन में शामिल हुए, उन्होंने भी कूड़ा एकत्र किया। सेवानिवृत्त कैप्टन श्याम सिंह ने 345 महिलाओं और पुरुषों को हरी झंडी दिखाई और इस दल ने पूरी घाटी को साफ कर दिया।

जानकारी के अनुसार, दल में 175 पुरुष और 170 महिलाएं शामिल रहीं, अभियान की शुरुआत माता शिकारी देवी से हुई और फिर भुलाह तक 12 किलोमीटर पैदल चलकर जगह-जगह फेंके गए प्लास्टिक कचरे को इकट्ठा किया।

सीएम जयराम ठाकुर ने इंडिया बुक ऑफ रिकॉर्ड्स का मेडल और प्रमाण पत्र एसडीएम थुनाग पारस अग्रवाल को दिया। खंड विकास अधिकारी गोपाल सिंह पाठक ने कहा कि इस कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य लोगों को स्वच्छता के प्रति जागरूक करना और युवाओं को नशे की लत के दुष्परिणामों के बारे में जागरूक करना था।

बीडीओ गोपाल सिंह ने पूरे इवेंट से जुड़ी तस्वीरें भी सोशल मीडिय़ा पर शेयर की हैं. लोगों ने वॉलंटियर के तौर पर इस इवेंट में हिस्सा लिया।

 

प्लॉगिंग स्वीडिश शब्द है और इसका अर्थ होता है कूड़ा उठाना. लोग जागिंग करते या भागते हुए प्लास्टिक की बोतलें और अन्य कूड़ा उठाते चलते हैं. इससे पर्यावरण भी साफ रहता है और फिटनेस भी बनी रहती है।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *