एन ए आई ब्यूरो।

ऊना, जिला में चल रहे वर्तमान मौसम के हालातों के मद्देनजर वैज्ञानिकों ने आलू की खेती करने वाले किसानों को परामर्श दिया है कि वह दिन में एक बार अपने खेतों का भ्रमण जरूर करें। आलू की फसल में आ रहे बदलाव को जरूर नोटिस करते हुए उसे वैज्ञानिकों के साथ साझा करते रहें। यदि आलू के पत्तों पर काले रंग के धब्बे नजर आते हैं, तो अवश्य उसका हल करने की तैयारी करें, इस समय अर्ली ब्लाइट की संभावना हो सकती है। लेकिन अर्ली ब्लाइट से ज्यादा लेट ब्लाइट आलू की फसल के लिए खतरनाक है। वैज्ञानिकों की माने तो यह किसी किसान के अपने खेत में ना होकर आस-पड़ोस के खेत में भी हो सकता है। उससे भी किसानों को सचेत रहने की जरूरत है। यदि किसी प्रकार की दिक्कत नहीं भी आ रही है तब भी फसल पर वैज्ञानिकों द्वारा सुझाई गई दवाओं का छिड़काव कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि वर्तमान मौसम के हालातों के अनुसार जिला में धूप नजर नहीं आ रही है वहीं नमी लगातार बनी रह रही है, इन्हीं परिस्थितियों में ब्लाइट की संभावना बेहद ज्यादा बढ़ जाती है। जिस से निपटने के लिए कृषि वैज्ञानिकों और कृषि विभाग के अधिकारियों से किसानों को लगातार संपर्क बनाए रखना होगा।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllEscort