एन ए आई ब्यूरो।

दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज कीगन पीटरसन अभी भी भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज में अपने शानदार प्रदर्शन से हैरान हैं। उन्होंने कहा कि मैं अपनी बल्लेबाजी को भूल नहीं पा रहा हूं, क्योंकि भारतीय गेंदबाजी अटैक के खिलाफ खेलना मेरे क्रिकेट करियर की सबसे बड़ी चुनौती थी। पीटरसन ने दक्षिण अफ्रीका के लिए 0-1 से पिछड़ने के बाद तीन मैचों की सीरीज 2-1 से जीतने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। 28 साल के खिलाड़ी ने सीरीज में सबसे ज्यादा रन बनाए थे उन्होंने 46.00 की औसत से 276 रन बनाए। केपटाउन(72 और 82)में दोनों पारियों में मैच जीतने वाले अर्धशतक लगाए जिसके लिए उन्हें’प्लेयर ऑफ द मैच’चुना गया और सीरीज में बेहतरीन बल्लेबाजी के लिए उन्हें ‘प्लेयर ऑफ द सीरीज’के पुरस्कार भी नवाजा गया।पीटरसन ने अपने टेस्ट करियर की शानदार शुरुआत नहीं की थी, जून 2021 में वेस्टइंडीज के खिलाफ अपनी पहली सीरीज में 19, 7 और 18 रन बनाए थे। लेकिन भारत के खिलाफ अपने कारनामों के बाद, पीटरसन ने टेस्ट क्रिकेट खेलने का मौका दिए जाने पर आभार व्यक्त किया।उन्होंने कहा की अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट मेरे लिए एक आसान नहीं रहा है, लेकिन मुझे जब भी मौका मिलता है, तो मैं बेहतर करने की कोशिश करता हूं। मैं मौका देने के लिए सबका आभारी हूं, उन लोगों के समूह के बीच खेल रहा हूं, जो दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट में कुछ नया शुरू करने की कोशिश कर रहे हैं। हम एक टीम के रूप में एक नई कहानी लिखने की कोशिश कर रहे हैं।पीटरसन ने सेंचुरियन में 113 रनों से पहला टेस्ट हारने के बाद सीरीज जीतने के लिए वापसी करने के लिए कप्तान डीन एल्गर के नेतृत्व की सराहना की।

Share:

editor

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

AllEscort